आरुषि हत्याकांड: हफ्ते में 40 मिनट के लिए मिलेंगे तलवार दंपति

  • आरुषि हत्याकांड: हफ्ते में 40 मिनट के लिए मिलेंगे तलवार दंपति
You Are HereNational
Thursday, November 28, 2013-10:58 AM

गाजियाबाद: आरूषि हत्याकांड में डासना जेल में बंद राजेश और नूपुर को बैरक 11 और 13 में रखा गया है। राजेश तलवार बैरक नंबर 11 में बंद हैं, जबकि नूपुर को 13 नंबर महिला बैरक में रखा गया है। इन दोनो के बैरक में भले ही एक नंबर की दूरी हो, परंतु फिर भी तलवार दंपति एक दूसरे को देख नही पाएंगे। वह हफ्ते में सिर्फ एक बार मात्र 40 मिनट के लिए एक-दूसरे से मिल पाएंगे और इसके लिए शनिवार का दिन तय किया गया है। तलवार दंपति को प्रत्येक शनिवार जेल के अंदर स्थित पार्क में मिलने का मौका दिया जाएगा।

इसके अलावा अन्य किसी भी दिन राजेश और नूपुर आपस में नहीं मिल पाएंगे। इसके अलावा तलवार दंपति जेल में 1200 रुपए प्रतिमाह मेहनताने पर काम करेंग, यानिकी उन्हें 40-40 रुपए प्रतिदिन के हिसाब से मेहनताना दिया जाएगा। गौरतलब है कि आरुषि-हेमराज मर्डर केस में राजेश और नूपुर तलवार को आजीवन कारावास की सजा दी गई है। जेल प्रशासन ने उनकी योग्यता के अनुसार दोनो को अलग-अलग काम सौंपे है। राजेश जेल अस्पताल में मरीजों की दांतों का चेकअप करेंगे, वहीं नूपुर को महिला बंदियों और उनके बच्चों को पढ़ाएंगी।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You