फाइनेंस कम्पनी के खिलाफ CBI जांच की मांग

  • फाइनेंस कम्पनी के खिलाफ CBI जांच की मांग
You Are HereNational
Saturday, December 07, 2013-2:14 PM

लखनऊ:  भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और कांग्रेस ने राजधानी लखनऊ में गुडम्बा थाना पुलिस द्वारा निवेशकों के करोड़ो रुपये हड़पने वाली मैग्नम फाइनेंस कम्पनी के संचालकों को बचाये जाने और उनसे मोटी रकम वसूलने के मामले के तार पुलिस तथा सत्ता में बैठे लोगों से जुड़े होने का आरोप लगाते हुए इसकी केन्द्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) से जांच की मांग की है।

भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता विजय बहादुर पाठक ने आज यहां कहा  कि देश को चलाने की दावेदारी करने वाले समाजवादी पार्टी (सपा) मुखिया मुलायम सिंह यादव की पार्टी की सरकार में राजधानी में ही पुलिसकर्मी जनता की गाढी कमाई लूटने वालों को बचाने और उनसे वसूली करने में लगे हैं।  जब यादव से राजधानी नहीं सम्भल रही है तो वह देश क्या सम्भालेंगे।


यह गम्भीर मामला है और इसकी सीबीआई जांच होनी  चाहिए। उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार की नाक के नीचे जनता का पैसा लूटने वाली मैग्नम कम्पनी पर कार्रवाई करने की जगह गुडम्बा थाना प्रभारी राम प्रसाद यादव और उसके साथी पुलिसकर्मियों ने कम्पनी के संचालकों को न.न सिर्फ उनके खिलाफ दर्ज मुकदमों में बचाने की कोशिश की बल्कि उनसे करोडों रपए भी वसूले। उन्होंने कहा कि इसमें वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जे. रवीन्द्र गौड से लेकर ऊपर तक के लोगों की संलिप्तता है। अदालत का दबाव पडने पर गौड ने गुडम्बा थाना प्रभारी को लाइन हाजिर करके मामले को दबाने की कोशिश की है लिहाजा इसकी सीबीआई जांच होनी ही चाहिए।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You