लोकपाल विधेयक लाने को लेकर गंभीर नहीं कांग्रेस: जावडेकर

  • लोकपाल विधेयक लाने को लेकर गंभीर नहीं कांग्रेस: जावडेकर
You Are HereNational
Sunday, December 15, 2013-3:57 PM

हैदराबाद: भाजपा ने आज आरोप लगाया कि सत्तारूढ़ कांग्रेस लोकपाल विधेयक लाने को लेकर ‘गंभीर नहीं’ है और संप्रग सरकार भ्रष्टाचार निरोधक विधेयक काफी समय पहले ला सकती थी क्योंकि इस मुद्दे पर आमसहमति थी। भाजपा प्रवक्ता प्रकाश जावडेकर ने यहां संवाददाताओं से कहा कि कांग्रेस लोकपाल (विधेयक) को लेकर गंभीर नहीं है। एक साल पहले मई 2012 में ही आमसहमति बन गई थी। डेढ साल में तीन शांतिपूर्ण सत्र आयोजित हुए। वे (कांगे्रस) किसी भी समय विधेयक ला सकते थे।

उन्होंने कहा कि सर्वसम्मति से सिफारिशें की गई थीं। ऐसे में, अगर वे सही थे तो वे विधेयक लाते और इसे पारित करते। हम इसे सर्वसम्मति से पारित करने के लिए तैयार थे। लेकिन सरकार ऐसा नहीं चाहती थी और इसलिए हमें संदेह है। लोकपाल को आगे बढाते हुए कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने कल राजनीतिक दलों से मतभेद भुलाकर भ्रष्टाचार के खिलाफ इसे पारित करने की अपील की थी। 

पृथक तेलंगाना का समर्थन कर रही भाजपा के नेता जावडेकर ने कहा कि पृथक राज्य के मुद्दे पर ही कांग्रेस के इरादे संदेहपूर्ण हैं। राज्यसभा सांसद ने कहा कि हमें तेलंगाना मुददे पर कांग्रेस के इरादों पर संदेह है। कांग्रेस ने आंध्र प्रदेश विधानमंडल को तेलंगाना विधेयक पर अपनी राय भेजने के लिए 23 जनवरी का समय दिया है। संसद का यह सत्र तब तक नहीं चलेगा। इसका मतलब यह हुआ कि विधेयक इस सत्र में नहीं आएगा। मुझे संदेह है कि वे चुनावों से पहले फरवरी में होने वाले सत्र में विधेयक लेकर आएंगे।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You