विज्ञापन की आय में हिस्सा देने को तैयार हुई मैट्रो

  • विज्ञापन की आय में हिस्सा देने को तैयार हुई मैट्रो
You Are HereNational
Saturday, January 04, 2014-1:06 AM

नई दिल्ली (सज्जन चौधरी) : 11 वर्ष के बाद आखिरकार दिल्ली मेट्रो रेल कॉरर्पोरेशन तीनों नगर निगम को विज्ञापन से होने वाली कमाई का 25 फीसदी हिस्सा देने को तैयार हो गई है। दिल्ली मैट्रो रेल कॉरर्पोरेशन ने 25 फीसदी शेयर देने की बात कही है। विज्ञापन से मिलने वाले 25 फीसदी शेयर को लेकर तीनों नगर निगम एकमत नहीं है। जहां पूर्वी दिल्ली नगर निगम मैट्रो के ऑफर को लेकर राजी है वहीं दक्षिणी और उत्तरी दिल्ली नगर निगम इस पर सहमत नहीं है।

दक्षिणी दिल्ली नगर निगम मेट्रो के 25 फीसदी शेयर राशि को बढ़ाकर 50 फीसदी करने की मांग कर रही है। वहीं उत्तरी दिल्ली नगर निगम ने अभी तक कोई पुख्ता निर्णय नहीं लिया है।  मैट्रो से मिलने वाले विज्ञापन राशि को लेकर शुक्रवार को तीनों नगर निगम के अधिकारियों ने एक टेबल पर बैठक इस विषय पर चर्चा की लेकिन कोई नतीजा नहीं निकल सका है।

 पूर्वी दिल्ली नगर निगम आरपी सैल के उपायुक्त जे एल गुप्ता का कहना है कि मेट्रो 11 साल बाद जनवरी, 2013 से  विज्ञापन का 25 फीसदी शेयर देने को तैयार हुआ है। 25 फीसदी शेयर को लेने के बाद भी आगे विचार किया जा सकता है। वहीं उत्तरी दिल्ली नगर निगम मेट्रो के कर्मर्शियल यूज और सर्शत राशि लौटाने के पक्ष में नहीं है।

उत्तरी और दक्षिणी दिल्ली नगर निगम का कहना है कि मेट्रो सुप्रीम कोर्ट की गाईड लाईन के तहत राशि का भुगतान नहीं करना चाहती है साथ ही मेट्रो ने सशर्त भुगतान की बात कही है। जिसे लेकर निगम विचार कर रही है। वहीं दक्षिणी दिल्ली नगर निगम मेट्रो द्वारा दिए जाने वाले 25 फीसदी विज्ञापन शेयर की राशि लेने को तैयार नहीं है।

दक्षिणी नगर निगम सुप्रीम कोर्ट की गाईड लाईन के तहत 50 फीसदी शेयर की बात कह रही है। सूत्र बताते है कि निगम की इस मीटिंग में फिलहाल अंतिम निर्णय नहीं लिया जा सका है। तीनों नगर निगम के एकमत होने के बाद ही इस मामलें को लेकर डीएमआरसी के साथ ओएमयू साईन किया जाएगा।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You