पत्नी की हत्या कर कब्र पर लगा दिया आम का पेड़

  • पत्नी की हत्या कर कब्र पर लगा दिया आम का पेड़
You Are HereNcr
Sunday, January 12, 2014-3:37 PM

नई दिल्ली: पहले 22 साल की युवती को प्रेम प्रसंग में फंसाया और उसे अपने गांव से भगाकर दिल्ली ले आया। यहां पर उसने उससे मंदिर में शादी भी की, लेकिन कुछ दिनों बाद वह अपनी ही पत्नी के चरित्र पर शक करने लगा। इसलिए वह अपने मामा और बड़े भाई के साथ मिलकर उसे अपने गांव सुल्तानपुर ले गया। जहां पर उसकी हत्या करने के बाद उसके शव को आम के बगीचे में जमीन में गाड़ दिया।

किसी को शक न हो इसलिए उसने शव के ऊपर आम का पेड़ लगा दिया, लेकिन दक्षिण पूर्वी जिला के पुल प्रहलादपुर पुलिस ने आरोपी पति समेत 3 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार आरोपियों की पहचान समरजीत, अरविंद व नरेंद्र के रूप में हुई है। दक्षिण पूर्वी जिला के डी.सी.पी. पी. करुणाकरण ने बताया कि मृतक युवती का नाम दीपा कुमारी है। दीपा सुल्तानपुर के धनजई गांव की रहने वाली थी। 25 वर्षीय समरजीत भी उसी गांव का रहने वाला है। दोनों गांव के ही स्कूल में 8वीं कक्षा तक साथ-साथ पढ़ाई की थी। पिछले साल 27 फरवरी को समरजीत, दीपा को भगाकर दिल्ली ले आया था।

यहां पुल प्रहलादपुर में रहने वाले समरजीत के मामा ने उसे किराए पर रखवा दिया था। कई महीने तक दोनों साथ रहे। कुछ महीने पूर्व समरजीत को शक हुआ कि दीपा का किसी अन्य युवक से संबंध है। उसने इस संबंध में अपने बड़े भाई अरविंद व सुल्तानपुर गांव में रहने वाले मामा नरेंद्र से चर्चा कर हत्या की योजना बना ली। समरजीत ने दीपा को झांसा दिया कि उसके मामा को कोई संतान नहीं है। उनकी प्रॉपर्टी भी उसी की हो जाएगी। प्रॉपर्टी अपने नाम कराने व गांव में रहने का झांसा देकर 23 दिसम्बर को तीनों दीपा को लेकर सुल्तानपुर के लिए चल पड़े। देर शाम गांव पहुंचने से पूर्व तीनों आम के बगीचे में दीपा की गला घोंटकर हत्या कर दी और गड्ढा खोदकर शव को दफना दिया।

वहां शव दफना होने की बात किसी को पता न चले इसके लिए उन्होंने वहां आम का पौधा लगा दिया। वारदात के बाद समरजीत वापस दिल्ली आ गया और गार्ड की नौकरी शुरू कर दी। नरेंद्र को लगा कि कहीं समरजीत के पकड़े जाने से वह भेद न खोल दे जिससे 2 दिन बाद उसने अकेले रात को शव निकाल कर वहां से 25 कदम दूर दूसरा गड्ढा खोदकर शव को दफना दिया और उस पर आम का पौधा लगा दिया। पुल पहलादपुर में यह जानकारी किसी को मिलने पर उसने पुलिस को जानकारी दे दी। इसके बाद थानाध्यक्ष धर्मदेव की टीम ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You