अबुझमाड में बच्चे बंदूक के साए में पी रहे हैं पोलियो की दवा

  • अबुझमाड में बच्चे बंदूक के साए में पी रहे हैं पोलियो की दवा
You Are HereNational
Sunday, January 19, 2014-3:19 PM
बस्तर: छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित बस्तर संभाग के अतिसंवेदनशील क्षेत्र अबुझमाड में आज बच्चों को बंदूक के साए पर दवा पिलाई जा रही है। बस्तर संभाग के नारायणपुर जिले के मुख्य चिकित्सा अधिकारी एस.एम कंवर ने बताया कि ओरक्षा विकासखंड क्षेत्र के अबुझमांड इलाके में पल्स पोलियो दवा पिलाने के लिए 235 केनंद्र बनाए गए हैं इन केंद्रो में 5040 बच्चों को पल्स पोलियो की दवा पिलाई जाएगी। इसमे 40 बच्चे एैसे है जो पहली बार पल्स पोलियो की दवा पिएंगे।
 
उन्होंने बताया कि इन बच्चों को दवा पिलाने के लिए कर्मचारी के दल को 10 से लेकर 45 किलो मीटर तक पैदल दूरी तय कर इन बच्चों की दवा पिलाई जाएगी। उन्होंने बताया की इन इलाकों के लिए तीन दिन पहले दलों की रवाना कर दिया गया है। दूर्गम पहाड़ी और नक्सलियों के कारण यह कदम उठाना पड़ा। मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि इन इलाको में कर्मचारी पहुंच चुके हैं।
 
दूसरी ओर नाम न छापने पर पल्स पोलियो पैदल दल के कर्मचारियों ने बताया की पहाड़ी जंगली इलाकों में उनकी तलाशी ली पर उन्हें पोलियों की दवा पिलने की अनुमति दी यहा तक की गांव तक पहुंचाने की जिम्मेदारी ली। विदित हो की अबुझमाड इलाके में नशबंदी प्रतिबंध है इस इलाके में जनसंख्या धिरे धिरे कम होती जा रही है।
 

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You