केजरीवाल से मिले पूर्वोत्त्तर के छात्र, नीडो के लिए मांगा इंसाफ

  • केजरीवाल से मिले पूर्वोत्त्तर के छात्र, नीडो के लिए मांगा इंसाफ
You Are HereNational
Monday, February 03, 2014-9:22 PM

नई दिल्ली: पूर्वोत्तर के छात्र संगठनों के कई प्रतिनिधियों ने नीडो तानिया के लिए जल्द इंसाफ की मांग करते हुए आज यहां दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से भेंट की। नीडो कुछ दुकानदारों की पिटाई में मारा गया था। छात्र प्रतिनिधियों ने इस संबंध में मुख्यमंत्री को एक ज्ञापन सौंपा। उनके साथ केंद्रीय अल्पसंख्यक मामले राज्य मंत्री निनोंग भी थे।

उन्होंने न केवल पूर्वोत्तर बल्कि देश के अन्य हिस्सों से आने वाले लोगों के साथ नस्ली भेदभाव के मामालों पर गौर करने के लिए दिल्ली सरकार के अंतर्गत एक समिति बनाने की भी मांग की। ज्ञापन में दूसरी मांग दिल्ली के शिक्षा पाठ्यक्रम में पूर्वोत्तर के इतिहास एवं संस्कृति को शामिल करना था। केजरीवाल से भेंट के बाद सामाजिक कार्यकर्ता वीनालक्ष्मी नेप्रम ने कहा कि मुख्यमंत्री ने उपराज्यपाल के समक्ष यह मुद्दा उठाने और तत्काल पुलिस कार्रवाई के लिए दबाव डालने का आश्वासन दिया। छात्र प्रतिनिधियों ने कहा कि वे आज से जंतर मंतर पर धरना पर बैठेंगे।

नेप्रम ने कहा, ‘‘केजरीवाल ने हमें आश्वसान दिया कि वह भी प्रदर्शन में हमारा साथ देंगे।’’ उन्होंने आरोप लगाया कि घटना के तीन दिन बाद भी पुलिस अपराधियों को बचाने की कोशिश कर रही है। उन्होंने कहा, ‘‘पुलिस ने कई भयंकर भूल की है, पहले उन्होंने पीड़ित से कागज पर इस बात का हस्ताक्षर करवा लिया कि वह मेकिडल दृष्टि से ठीक है।

तत्काल प्राथमिकी दर्ज नहीं की गयी। अब वह दावा कर रही है कि जबतक विसरा रिपोर्ट नहीं आ जाती, वह मौत की वजह नहीं जानती। ’’ नेप्रम ने ऐसी घटनाएं फिर होने से रोकने के लिए केंद्र से नस्लविरोधी कानून बनाने की भी मांग की। उन्होंने आरोप लगाया कि पूर्वोत्तर के लोगों के साथ दोयम दर्जे के नागरिक के रूप में बर्ताव किया जाता है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You