अदालत ने पुलिस से टुंडा के मामले में सबूतों को स्पष्ट करने को कहा

  • अदालत ने पुलिस से टुंडा के मामले में सबूतों को स्पष्ट करने को कहा
You Are HereNational
Wednesday, February 12, 2014-7:22 PM

नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस से यहां एक अदालत ने आज कहा कि वह बताये कि उसे लश्करे तय्यबा के बम विशेषज्ञ अब्दुल करीम टुंडा के मामले में कोई ताजा सबूत मिला है या नहीं। टुंडा के खिलाफ विस्फोटक बरामदगी संबन्धी 1994 में दायर एक मामले में आरोप पत्र दाखिल किया गया है। अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश भरत पराशर ने दिल्ली पुलिस के विशेष प्रकोष्ठ से कहा कि अगर टुंडा के खिलाफ कोई सबूत नहीं है तो इस मामले में आगे बढना एक ‘निरर्थक कार्रवाई’ होगी। अदालत ने यह भी कहा कि जिस मामले में टुंडा के खिलाफ कल पूरक आरोप पत्र दायर किया गया है उस मामले में पहले गिरफ्तार किये गये कुछ आरोपी पहले ही अदालत द्वारा बरी किये जा चुके हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘अगर सबूत वही हैं और न्याय अपने अंतिम चरण में पहुंच चुका है तो मैं कुछ नहीं कर सकता क्यों हम निरर्थक कार्रवाई करें।’’ अदालत ने पुलिस से यह भी पूछा कि जिस आधार पर आरोपी पहले बरी किये जा चुके हैं क्या पूरक आरोप पत्र में उन पर ध्यान दिया गया है। अतिरिक्त लोक अभियोजक राजीव मोहन ने अदालत द्वारा मांगे गये स्पष्टीकरण पर जवाब देने के लिये समय मांगा। इस पर अदालत ने 18 फरवरी के लिये सुनवाई स्थगित कर दी।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You