पशुओं के खिलाफ क्रूरता को लेकर सर्कसों को कारण बताओ नोटिस

  • पशुओं के खिलाफ क्रूरता को लेकर सर्कसों को कारण बताओ नोटिस
You Are HereNational
Wednesday, March 12, 2014-5:04 AM

नई दिल्ली : सर्कसों में पशुओं पर होने वाले अत्याचार के परिप्रेक्ष्य में दो सरकारी संस्थाओं ने देश के सर्कस मालिकों को कारण बताओ नोटिस जारी कर पूछा है कि अगर वे नियमों का पालन नहीं करते हैं तो क्यों नहीं उनकी मान्यता खत्म कर दी जाए। यह दावा आज पेटा ने किया।

भारत के पशु कल्याण बोर्ड एवं केंद्रीय चिडिय़ाघर प्राधिकरण ने सर्कस मालिकों को चेतावनी दी है कि अगर वे नियमों का पालन नहीं करते तो ‘पशुओं को रखने की सुविधा’ की मान्यता खत्म कर दी जाएगी। पेटा ने कहा कि दोनों सरकारी निकायों ने भारत में 16 सर्कसों में की गई नौ महीने की जांच के बाद नोटिस जारी किए जिस दौरान कई नियमों के उल्लंघन पाए गए।
 

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You