शौचालयों से गंदगी होगी दूर, मिलेगी बिजली, गैस भरपूर

  • शौचालयों से गंदगी होगी दूर, मिलेगी बिजली, गैस भरपूर
You Are HereNational
Sunday, March 23, 2014-5:42 PM

 नई दिल्ली : देशभर में सार्वजनिक शौचालय की सुविधा प्रदान करने वाली संस्था सुलभ ने ऐसे शौचालय का निर्माण किया है जो गंदगी की समस्या को तो दूर करेगा ही, साथ ही खाना पकाने के लिए गैस और बिजली के उत्पादन में भी कारगर होगा।

 सुलभ इंटरनेशनल के इस तरह के किफायती शौचालय न केवल देश के शहरी और ग्रामीण इलाकों में उचित स्वच्छता के लिए कारगर होंगे बल्कि मानव मल से छोटे गांवों के लिए बिजली पैदा की जाएगी और घरों के लिए कुकिंग गैस भी बनाई जाएगी।

 संस्था के संस्थापक बिंदेश्वर पाठक ने कहा, ‘‘इस संस्था ने 13 लाख शौचालयों को फ्लश शौचालयों में बदला है और मैला ढोने वाले लाखों लोगों को इस तरह के खराब चलन से और अस्पृश्यता के बंधन से बाहर निकाला है।’’

 हाल ही में यहां आयोजित टॉयलेट फेयर में भाग लेते हुए पाठक ने शौचालय के किफायती मॉडल का प्रदर्शन किया जिसकी कीमत ग्रामीण इलाकों के लिए 2,000 रपये से कम होगी और इसे स्थानीय तौर पर उपलब्ध संसाधनों से तैयार किया गया है।

पाठक ने बताया कि चीन, भूटान, बांग्लादेश, अफगानिस्तान, बुरकिना फासो, घाना, केन्या, माली, नाइजीरिया, सेनेगल, तंजानिया और जांबिया समेत अनेक देशों ने स्वच्छता संबंधी सुविधाओं को बढ़ाने के मकसद से सुलभ के मॉडल को अपनाया है।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You