Subscribe Now!

पंजाब शहरी आवास योजना के तहत भरे फॉर्मों की होगी दोबारा जांच

  • पंजाब शहरी आवास योजना के तहत भरे फॉर्मों की होगी दोबारा जांच
You Are HerePunjab
Tuesday, January 16, 2018-7:42 PM

नयागांव, (मुनीष जोशी): नगर में पंजाब शहरी आवास योजना के तहत भरे गए फार्मों की अब जांच होगी। एस.डी.एम. अमरिंद्र कौर बराड़ के आदेशों पर जांच के लिए एक कमेटी का गठन किया गया है। यह कमेटी इन फार्मों की जांच कर रिपोर्ट भेजेगी। अगर किसी ने यह फार्म सही तरीके से नहीं भरा गया होगा या किसी ने हेरफेर कर रखी होगी तो उसके खिलाफ सरकारी नियमों के अनुसार कार्रवाई भी हो सकती है। इस कमेटी के इंचार्ज एस.डी.ओ. नयागांव जवाहर सागर, नायब तहसीलदार हरइंद्रजीत सिंह, डी.एफ.एस.ओ. सिफाली आदि इन फार्मों की जांच पड़ताल करेंगे। नयागांव से इस योजना के तहत करीब 51 फार्म भरे गए हैं।


यह है योजना 
अनुसूचित जाति और पिछड़ी जातियों के लिए पंजाब शहरी आवास योजना 2017 शुरू करने को मंजूरी दी गई है। पहले चरण में तीन लाख रुपए से कम सालाना आय वाले और दूसरे चरण में पांच लाख से कम आय वालों को मुफ्त रिहायश दी जाएगी। कांग्रेस ने मैनिफेस्टो में यह वादा किया था। सी.एम. ने हिदायत दी कि इस स्कीम में असल लाभपात्रियों को ही लाभ मिलना यकीनी बनाने को काफी ध्यान दिया जाए। किसी भी अयोग्य का नाम सूची में नहीं आना चाहिए। स्कीम के तहत उसी जगह पर जरूरतमंदों के लिए मकान बनाए जाएंगे, जहां उनकी जरूरत होगी। निजी डेवलपरों को ई.डी.सी., सी.एल.यू. में रियायत देकर मकान बनवाए जाएंगे। तीन लाख से कम आय वाले लाभपात्रियों को स्टांप ड्यूटी, रजिस्ट्रेशन चार्ज, सामाजिक बुनियादी ढांचा फंड या किसी भी टैक्स से छूट दी जाएगी। यह स्कीम छह लाख से कम आय वाले (एल.आई.जी.) और 18 लाख से कम आय वाले (एम.आई.जी.) परिवारों के लिए सस्ती दरों पर कर्ज मुहैया कराने की सुविधा भी देगी।


कोट :
नगर में भरे फार्मों की चैकिंग के लिए कमेटी गठित की गई है। कमेटी के इंचार्ज एस.डी.ओ. जवाहर सागर हैं जिनकी अगुवाई में फार्मांे की चैकिंग की जाएगी। 
-संदीप तिवाड़ी, ई.ओ., नगर काऊंसिल नयागांव। 

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You