भारत ने द. अफ्रीका को 6 विकट से हराया, पहुंचा फाइनल में

  • भारत ने द. अफ्रीका को 6 विकट से हराया, पहुंचा फाइनल में
You Are HereSports
Saturday, April 05, 2014-5:11 AM

मीरपुर: रविचंद्रन अश्विन ने अपनी कैरम बाल का कमाल दिखाया तो स्टार बल्लेबाज विराट कोहली ने आकर्षक अर्धशतक जड़ा जिससे भारत ने आज यहां हर तरह की बाधा आसानी से पार करके दक्षिण अफ्रीका पर 6 विकेट की जीत से आई.सी.सी. विश्व टी-20 चैम्पियनशिप के फाइनल में कदम रखा।

भारत इस टूर्नामैंट में दूसरी बार खिताबी मुकाबले तक पहुंचा है। इससे पहले उसने 2007 में पाकिस्तान को हराकर खिताब जीता था। महेंद्र सिंह धोनी की टीम अब रविवार को अपने एक अन्य पड़ोसी श्रीलंका से भिड़ेगी जिसे उसने 2011 में एकदिवसीय विश्व कप के फाइनल में शिकस्त दी थी।

दक्षिण अफ्रीका ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए कप्तान फाफ डुप्लेसिस के 41 गेंदों पर बनाए गए 58 रन और शानदार फार्म में चल रहे डुमिनी के 40 गेंदों पर नाबाद 45 रन से 4 विकेट पर 172 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर खड़ा किया। डेविड मिलर ने भी 12 गेंदों पर नाबाद 23 रन बनाए। रोहित शर्मा (13 गेंदों पर 24 रन) और अजिंक्या रहाणे (30 गेंदों पर 32 रन) ने भारत को तेज-तर्रार और सकारात्मक शुरूआत दिलाई। इसके बाद कोहली ने अपने सदाबहार अंदाज में बल्लेबाजी करके 44 गेंदों पर 5 चौकों और 2 छक्कों की मदद से नाबाद 72 रन की प्रभावशाली पारी खेली।

सुरेश  रैना ने 10 गेंदों पर 21 रन का योगदान दिया जिससे भारत ने 19.1 ओवर में 4 विकेट पर 176 रन बनाकर आसानी से लक्ष्य हासिल किया। अश्विन को छोड़कर अन्य गेंदबाजों के निराशाजनक प्रदर्शन की भरपाई भी बल्लेबाजों ने की। अश्विन ने 4 ओवर में 22 रन देकर 3 विकेट लिए। अमित मिश्रा ने टूर्नामैंट में अपना सबसे खराब प्रदर्शन किया। उन्होंने 3 ओवर में 36 रन दिए। धोनी ने अपने 3 मुख्य गेंदबाजों का कोटा भी पूरा नहीं करवाया। रोहित और रहाणे ने 23 गेंद पर 39 रन जोड़े और इस बीच दक्षिण अफ्रीका के तेज और स्पिन गेंदबाजों की चुनौती तोडऩे की कोशिश की। डुप्लेसिस का डुमिनी से गेंदबाजी का आगाज करवाने का फैसला गलत साबित  हुआ क्योंकि उनके इस ओवर में 14 रन बने जिसमें रोहित के 2 और  रहाणे का एक चौका शामिल है। 

रोहित ने दूसरे छोर से गेंद संभालने वाले एल्बी मोर्कल का 2 चौकों और फिर डेल स्टेन का अपर कट से छक्का जड़कर स्वागत किया। ब्यूरान हेनरिक्स की शार्ट पिच गेंद को भी उन्होंने गेंदबाज के सिर के ऊपर से 6 रन के लिए भेजना चाहा लेकिन वह हवा में तैर गई जिसे डुप्लेसिस ने कैच में बदला।

रोहित के आऊट होने के बाद रहाणे और कोहली ने स्ट्राइक रोटेट करके गेंदबाजों की परेशानी बढ़ाई। इस बीच रहाणे ने वायने पर्नेल पर छक्का जड़ा लेकिन इसी गेंदबाज के खिलाफ अपने शार्ट पर वह नियंत्रण नहीं रख पाए और डीप मिडविकेट पर कैच दे बैठे। कोहली ने भी डुमिनी की गेंद लांग आन पर 6 रन के लिए भेजी। डुप्लेसिस ने अपने मुख्य गेंदबाज स्टेन के 3 ओवर आखिर के लिए बचाकर रखे थे लेकिन इससे बल्लेबाजों पर असर नहीं पड़ा।

स्टेन ने इसके बाद जो 13 गेंद की उनमें 26 रन दिए।  कोहली ने लैग स्पिनर इमरान ताहिर के आखिरी ओवर में डीप मिडविकेट पर छक्का लगाकर टी-20 अंतर्राष्ट्रीय में अपना 7वां अर्धशतक पूरा किया। ताहिर ने इसके तुरंत बाद अपनी आखिरी गेंद पर युवराज सिंह  को लांग आफ कैच आऊट कराया।रैना ने पर्नेल की गेंद शार्ट फाइन लैग पर छक्के लिए भेजकर खाता खोला और फिर लगातार 2 चौके लगाए। इस ओवर में 17 रन बने जिससे मैच पूरी तरह से भारत के पक्ष में झुक गया।  कोहली ने स्टेन की गेंद 2 बार सीमा रेखा के पार भेजकर रही-सही कसर पूरी कर दी। उन्होंने इसी गेंदबाज पर विजयी चौका लगाया।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You