पाकिस्तान के बलूचिस्तान में आतंकी हमले में चार मजदूरों की मौत

Edited By Tanuja, Updated: 18 Jun, 2022 03:43 PM

3 labourers shot dead in balochistan

पाकिस्तान के अशांत बलूचिस्तान प्रांत के हरनाई जिले में अज्ञात आतंकवादियों ने मजदूरों के एक शिविर पर अंधाधुंध गोलीबारी की, जिसमें कम से कम चार...

पेशावरः पाकिस्तान के अशांत बलूचिस्तान प्रांत के हरनाई जिले में अज्ञात आतंकवादियों ने मजदूरों के एक शिविर पर अंधाधुंध गोलीबारी की, जिसमें कम से कम चार मजदूरों की मौत हो गयी और चार अन्य घायल हो गये। अधिकारियों ने शनिवार को यह जानकारी दी। हरनाई जिले के चापर बाएं इलाके में शुक्रवार देर रात को यह हमला हुआ। इससे तीन दिन पहले हथियारबंद लोगों ने क्वेटा के हन्ना उरक इलाके में एक निजी कोयला कंपनी के दो इंजीनियर सहित चार कर्मचारियों का अपहरण कर लिया था। अपहृत कर्मचारियों को अपहरणकर्ता एक अज्ञात स्थान पर ले गए।

 

हमलावरों ने कोयला खदान पर छापा मारा था, जहां ज्यादातर मजदूर पंजाब और खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के थे। प्रांतीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के अधिकारियों और सिबी डिवीजन के आयुक्त अब्दुल अजीज ने पुष्टि की कि आतंकवादी हमला देर रात को हुआ और हथियारबंद लोगों ने मजदूरों पर अंधाधुंध गोलीबारी की। आयुक्त ने कहा, ‘‘हमले में तीन मजदूरों की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि तीन अन्य गंभीर रूप से घायल हो गए।'' लेकिन शवों और घायलों को क्वेटा ले जाने के लिए मौके पर पहुंचे बचाव अधिकारियों ने कहा कि कम से कम चार मजदूरों की मौके पर ही मौत हो गई और चार अन्य घायल हो गए।

 

अजीज ने कहा कि हमलावरों ने शिविर में आग भी लगा दी और कई वाहनों को भी आग के हवाले कर दिया। मजदूर एक सरकारी निर्माण परियोजना में काम कर रहे थे। अब तक किसी अलगाववादी या आतंकवादी संगठन ने हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है। पूर्व में भी बलूचिस्तान में अलगाववादी और आतंकवादी संगठन प्रांत में सरकारी और चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारा परियोजनाओं में काम करने वाले अन्य प्रांतों के मजदूरों को निशाना बनाते रहे हैं। मई 2017 में मोटरसाइकिल सवार हथियारबंद लोगों ने ग्वादर में एक सड़क पर काम कर रहे मजदूरों पर गोलीबारी की थी, जिनमें से 10 की मौके पर ही मौत हो गई थी।

 

इसी तरह, 2018 में एक निजी दूरसंचार कंपनी के लिए काम कर रहे छह मजदूरों की खारान जिले में अज्ञात लोगों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। इसके बाद, 2021 की शुरुआत में इस्लामिक स्टेट समूह ने बलूचिस्तान के मच इलाके में 11 कोयला खनिकों की हत्या की जिम्मेदारी ली। आतंकवादियों ने पहले शिया हजारा समुदाय के सभी मजदूरों को एक कोयला खदान से अगवा किया और फिर पश्चिमी पाकिस्तानी प्रांत बलूचिस्तान में उनकी हत्या कर दी।

Related Story

Trending Topics

Test Innings
England

India

134/5

India are 134 for 5

RR 3.72
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!