Ebrahim Raisi Helicopter Crash Live Updates : तुर्किए के ड्रोन ने पता लगाई लोकेशन, अजरबैजान देश की सीमा पर क्रैश हुआ था हेलीकॉप्टर

Edited By Yaspal,Updated: 20 May, 2024 07:37 AM

iranian president ebrahim raisi s helicopter makes hard landing

ईरान के राष्ट्रपति इब्राहिम रईसी को ले जा रहे एक हेलीकॉप्टर ने ‘हार्ड लैंडिंग' की है। ईरान के सरकारी मीडिया ने इस ‘हार्ड लैंडिंग' का कोई ब्यौरा दिए बिना केवल इतनी जानकारी दी है। सरकारी टेलीविजन की खबर में रविवार को यह जानकारी दी गई है

इंटरनेशनल डेस्कः ईरान के राष्ट्रपति इब्राहिम रईसी के काफिले का हेलीकॉप्टर क्रैश हो गया, जिसके बाद रईसी और उनकी टीम से कोई संपर्क नहीं हो पाया है. रईसी रविवार को अजरबैजान में एक बांध का उद्घाटन करने के लिए पहुंचे थे। वहां से वापस आते वक्त घने जंगल में खराब मौसम होने के कारण हेलीकॉप्टर क्रैश हो गया। हालांकि अब तुर्कीए के ड्रोन की मदद से लोकेशन का पता लगाया गया है। वहां टीम पहुंच चुकी है, लेकिन अभी तक कोई मलवा नहीं मिला है। अभियान तेजी से जारी है।

ईरान स्थित प्रेस टीवी की रिपोर्ट के अनुसार, ईरानी अधिकारियों ने राष्ट्रपति इब्राहिम रईसी को ले जा रहे दुर्घटनाग्रस्त हेलीकॉप्टर की तलाश में अपना अभियान तेज कर दिया है। ईरान रेड क्रिसेंट ने दावा किया है कि उसने अपने बलों को उस स्थान पर भेज दिया है, जहां बचाव दलों ने ईंधन की गंध की सूचना भी मिली थी। इसके अलावा, ईरान के इस्लामिक रिवोल्यूशन गार्ड्स कॉर्प्स (आईआरजीसी) के मुख्य कमांडर मेजर जनरल होसैन सलामी भी पूर्वी अजरबैजान के उत्तर-पश्चिमी प्रांत के उस क्षेत्र में गए हैं, जहां ईरानी राष्ट्रपति को ले जा रहे हेलीकॉप्टर को 'हार्ड लैंडिंग' का सामना करना पड़ा था।

अजरबैजान क्यों गए थे रईसी?

बता दें कि ईरान और अजरबैजान अपने रिश्तों को सुधारने के लिहाज से अजरबैजान में सामूहिक डैम का निर्माण कर रहे हैं. इस कड़ी में यह तीसरा बांध था, जिसका उद्घाटन करने इब्राहिम रईसी अजरबैजान गए हुए थे. उद्घाटन कार्यक्रम के लिए उन्हें अजरबैजान के राष्ट्रपति इल्हाम अलीयेव ने आमंत्रित किया था।

जुल्फा शहर के निकट हुआ हादसा

सरकारी टीवी ने कहा कि यह घटना ईरान की राजधानी तेहरान से लगभग 600 किलोमीटर (375 मील) उत्तर-पश्चिम में अजरबैजान देश की सीमा पर स्थित जुल्फा शहर के निकट हुई। बाद में हालांकि टीवी ने बताया कि यह घटना उजी के निकट हुई है। सरकारी समाचार एजेंसी ‘आईआरएनए' की खबर के अनुसार, रईसी के साथ ईरान के विदेश मंत्री हुसैन अमीराब्दुल्लाहियन, ईरान के पूर्वी अजरबैजान प्रांत के गवर्नर और अन्य अधिकारी तथा अंगरक्षक भी यात्रा कर रहे थे।

एक स्थानीय सरकारी अधिकारी ने घटना का वर्णन करने के लिए ‘‘दुर्घटना'' शब्द का इस्तेमाल किया, लेकिन उन्होंने एक ईरानी समाचार पत्र के समक्ष स्वीकार किया कि वह अभी तक घटनास्थल पर नहीं पहुंचे हैं। रईसी की स्थिति के बारे में न तो ‘आईआरएनए' और न ही सरकारी टीवी ने कोई जानकारी दी।

गृह मंत्री अहमद वाहिदी ने सरकारी टीवी से कहा, ‘‘राष्ट्रपति और उनके साथ कुछ लोग हेलीकॉप्टर से वापस जा रहे थे और खराब मौसम और कोहरे के कारण हेलीकॉप्टर को आपात स्थिति में उतारना पड़ा।'' उन्होंने कहा, ‘‘विभिन्न बचाव दल क्षेत्र में जा रहे हैं, लेकिन खराब मौसम और कोहरे के कारण उन्हें हेलीकॉप्टर तक पहुंचने में समय लग सकता है।'' उन्होंने कहा, ‘‘यह क्षेत्र थोड़ा ऊबड़-खाबड़ है और वहां पहुंचना कठिन है। हम बचाव टीमों के लैंडिंग स्थल पर पहुंचने और उनसे अधिक जानकारी प्राप्त होने का इंतजार कर रहे हैं।''

सरकारी टीवी ने बताया कि बचाव दल मौके पर पहुंचने का प्रयास कर रहे हैं लेकिन खराब मौसम के कारण बचाव अभियान बाधित हो रहा है। तेज हवाओं के साथ भारी बारिश और कोहरे की सूचना मिली है। ‘आईआरएनए' ने इस क्षेत्र को एक ‘‘जंगल''बताया है। आपातकालीन सेवाओं के प्रवक्ता बाबाक येक्तापरास्त ने ‘आईआरएनए' को बताया कि बचाव अभियान में लगे एक हेलीकॉप्टर ने उस क्षेत्र तक पहुंचने की कोशिश की जहां अधिकारियों का मानना ​​है कि रईसी का हेलीकॉप्टर है, लेकिन जबरदस्त कोहरे के कारण हेलीकॉप्टर उतर नहीं सका। रईसी रविवार तड़के अजरबैजान के राष्ट्रपति इल्हाम अलीयेव के साथ एक बांध का उद्घाटन करने के लिए अजरबैजान में थे। यह तीसरा बांध है, जिसे दोनों देशों ने अरास नदी पर बनाया है। रईसी ईरान के पूर्वी अजरबैजान प्रांत में जा रहे थे।

रईसी (63) एक कट्टरपंथी हैं, जिन्होंने पूर्व में देश की न्यायपालिका का नेतृत्व किया था। उन्हें ईरान के सर्वोच्च नेता अयातुल्ला अली खामेनेई के करीबी के रूप में देखा जाता है और कुछ विश्लेषकों का कहना है कि वह 85 वर्षीय नेता (खामेनेई) की मृत्यु या पद से इस्तीफा देने के बाद उनकी जगह ले सकते हैं। रईसी ने ईरान का 2021 का राष्ट्रपति चुनाव जीता था। इस बीच अमेरिकी विदेश विभाग ने कहा कि वह ईरानी राष्ट्रपति और विदेश मंत्री को ले जा रहे एक हेलीकॉप्टर की ईरान में संभावित ‘हार्ड लैंडिंग' की खबरों पर बारीकी से नजर रख रहा है। विभाग ने कहा कि इस समय उसके पास इस संबंध में अधिक जानकारी नहीं है।

Related Story

Trending Topics

India

97/2

12.2

Ireland

96/10

16.0

India win by 8 wickets

RR 7.95
img title
img title

Be on the top of everything happening around the world.

Try Premium Service.

Subscribe Now!