अमेरिकी कैपिटल दंगा: ट्रंप के पूर्व प्रचार अभियान प्रबंधक ने पेश होने को लेकर अचानक असमर्थता जताई

Edited By PTI News Agency, Updated: 13 Jun, 2022 08:09 PM

pti international story

वाशिंगटन, 13 जनवरी (एपी) अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के चुनाव प्रचार अभियान के प्रबंधक रहे बिल स्टेपियन ने एक पारिवारिक आपात स्थिति का हवाला देते हुए छह जनवरी, 2021 को कैपिटल परिसर में हुए दंगों की जांच के लिए गठित प्रतिनिधि सभा की...

वाशिंगटन, 13 जनवरी (एपी) अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के चुनाव प्रचार अभियान के प्रबंधक रहे बिल स्टेपियन ने एक पारिवारिक आपात स्थिति का हवाला देते हुए छह जनवरी, 2021 को कैपिटल परिसर में हुए दंगों की जांच के लिए गठित प्रतिनिधि सभा की समिति के समक्ष पेश होने को लेकर अचानक असमर्थता जताई। समिति ने यह जानकारी दी।

समिति राष्ट्रपति पद के चुनाव में धांधली से जुड़े पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के उन ‘‘झूठे दावों’’ की और गहराई से जांच कर रही है, जिनके आधार पर उन्होंने 2020 चुनाव के परिणाम को पलटने की कोशिश की थी और जिनके कारण उनके समर्थकों की भीड़ ने अमेरिकी कैपिटल को घेर लिया था।
समिति को सुनवाई के दौरान स्टेपियन सोमवार को अहम गवाह होने वाले थे। समिति ने कहा कि स्टेपियन के वकील पेश होंगे और बयान देंगे। समिति ने सुनवाई शुरू करने का समय स्थगित कर दिया है।
समिति के सदस्यों ने कहा है कि उन्होंने पर्याप्त सबूत जुटा लिए हैं, जिनके आधार पर कानून मंत्रालय 2020 के चुनावी नतीजों को पलटने की कोशिश करने के मामले में ट्रंप के खिलाफ आपराधिक अभियोग चलाने पर विचार कर सकता है।

समिति के अध्यक्ष बेनी थॉम्सन और उपाध्यक्ष जिज चेने सोमवार को सुनवाई का नेतृत्व करेंगे। पिछले सप्ताह हुई सुनवाई को दो करोड़ अमेरिकियों ने टीवी पर देखा था।

समिति 1812 के युद्ध के बाद से कैपिटल पर हुए सबसे हिंसक हमले की पिछले एक साल से जांच कर रही है, ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि इस प्रकार का हमला फिर न हो।

सांसद यह साबित करने की कोशिश करेंगे कि अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन की चुनावी जीत को पलटने के ट्रंप के प्रयास ने लोकतंत्र के लिए एक गंभीर खतरा पैदा किया।

समिति ‘फॉक्स न्यूज’ के एक पूर्व राजनीतिक संपादक क्रिस स्टिरवॉल्ट की गवाही भी सुनेगी, जिन्होंने चुनावी रात संबंधी खबरों को कवर किया था। उन्होंने एरिजोना में राष्ट्रपति जो बाइडन की जीत के निर्णय का समर्थन किया था। इसके अलावा चुनाव अधिकारियों, जांचकर्ताओं और अन्य विशेषज्ञों की भी गवाही होगी।

ट्रंप ने समिति की जांच को ‘‘उन्हें निशाना बनाकर की जा रही कार्रवाई’’ करार दिया है।

कैपिटल दंगों में नौ लोगों की मौत हो गई थी और कई अन्य लोग घायल हुए थे।



यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

Related Story

Trending Topics

Test Innings
England

India

134/5

India are 134 for 5

RR 3.72
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!