‘जेट-एतिहाद सौदे को सुरक्षा मंजूरी नहीं दी गई’

  • ‘जेट-एतिहाद सौदे को सुरक्षा मंजूरी नहीं दी गई’
You Are HereBusiness
Friday, November 08, 2013-10:47 AM

नई दिल्ली: गृह मंत्रालय ने आर्थिक मामलों के विभाग को सूचित किया है कि उसने जेट एयरवेज में 24 प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदने के एतिहाद एयरवेज के प्रस्ताव को सुरक्षा मंजूरी नहीं दी है। आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति द्वारा 2,058 करोड़ रुपए के सौदे को मंजूरी दिए जाने के कई सप्ताह बाद गृह मंत्रालय ने आर्थिक मामलों के विभाग को बताया कि वह अभी प्रस्ताव का अध्ययन कर रहा है और प्रस्ताव को अभी तक सुरक्षा मंजूरी नहीं दी गई है।

सूत्रों के मुताबिक, गृह मंत्रालय ने कहा है कि आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति द्वारा निर्णय सुरक्षा एजेंसियों से बगैर कोई टिप्पणी लिए किया गया और मंत्रालय को एफआईपीबी के निर्णय की जानकारी नहीं थी। विदेशी निवेश संवर्धन बोर्ड (एफआईपीबी) ने 29 जुलाई को प्रस्ताव को मंजूरी दी थी।

गृह मंत्रालय ने आर्थिक मामलों के विभाग को लिखे एक पत्र में सूचित किया, ‘‘आर्थिक मामलों के विभाग ने न ही कोई विशेष तात्कालिकता दिखाई और न ही इस मंत्रालय द्वारा मांगा गया स्पष्टीकरण दिया, इस मंत्रालय को एफआईपीबी के निर्णय की जानकारी तक नहीं थी (क्योंकि बैठक के मिनट्स प्राप्त नहीं हुए)।’’

जहां सुरक्षा एजेंसियों को राय देने के लिए आमतौर पर 8 से 12 सप्ताह की जरुरत होती है, वे सुरक्षा संबंधी मंजूरी देने में आमतौर पर अधिक समय लेते हैं और यह कंपनी के ढांचे व उसके मूल देश पर निर्भर करता है। पत्र के अनुसार यह भी सूचित किया गया है कि गृह मंत्रालय से टिप्पणी नहीं मिलने का अर्थ उसकी मंजूरी मिलने से नहीं लगाया जा सकता।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You