कार्ड डाटा चोरी की जांच फॉरैंसिक ऑडिटर के हवाले: RBI

  • कार्ड डाटा चोरी की जांच फॉरैंसिक ऑडिटर के हवाले: RBI
You Are Herebanking
Tuesday, October 25, 2016-9:17 AM

मुंबई: भारतीय रिजर्व बैंक (आर.बी.आई.) ने कहा कि बैंकों के लाखों डैबिट कार्ड से जुड़ी जानकारियों के चोरी होने की घटना की जांच फॉरैंसिक ऑडिटर से करवाई जा रही है और अब तक जो आंकड़े मिले हैं उनसे बहुत कम कार्ड के दुरुपयोग होने की बात सामने आई है। 

रिजर्व बैंक ने चुनिंदा बैंकों, भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम और कार्ड नैटवर्क आप्रेटरों की इस घटना के बाद किए जा रहे उपायों की समीक्षा के लिए आज यहां बुलाई गई बैठक के बाद जारी बयान में कहा कि गत 8 सितम्बर को उसे इसकी जानकारी मिली थी कि कुछ बैंकों द्वारा जारी कार्ड से जुड़ी विस्तृत जानकारी एक एम.टी.एम. स्विच सेवा प्रदाता के यहां से लीक हुई है। इस मामले की पी.सी.आई. डी.एस.एस. फ्रेमवर्क के तहत एक मान्य फॉरैंसिक ऑडिटर से जांच करवाई जा रही है। 

उसने कहा कि इस घटना के बाद बैंक एहतियाती कदम उठा रहे हैं और भविष्य में अपने ग्राहकों के हितों की रक्षा के उपाय कर रहे हैं। बैंकों ने अपने ग्राहकों को ए.टी.एम. पिन बदलने सहित कई और उपाय सुझाए हैं। इसके साथ ही विदेश में कार्ड के उपयोग को बंद करने के साथ ही निकासी सीमा भी कम कर दी है और कार्ड बदलने के अलावा गलत तरीके से निकाली गई राशि ग्राहकों के खाते में क्रैडिट कर रहे हैं।  


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You