पंचकूला-यमुनानगर नैशनल हाईवे का चल रहा काम, बनेगा 12 लेन का टोल प्लाजा

  • पंचकूला-यमुनानगर नैशनल हाईवे का चल रहा काम, बनेगा 12 लेन का टोल प्लाजा
You Are HereChandigarh
Thursday, December 07, 2017-11:51 AM

पंचकूला(मुकेश) : पंचकूला- यमुनानगर नैश्नल हाईवे-73 को फोरलेनिंग करने का काम इन दिनों जोरों पर है। एन.एच.आई.ए. को रामगढ़ स्थित टी.बी.आर.एल. और आई.टी.बी.पी. से जमीन की परमीशन मिलने के बाद फोरलेनिंग के काम को पहले से ज्यादा तेज कर दिया गया है। इसके साथ ही हाईवे पर बरवाला के गांव नग्गल के पास टोल प्लाजा को बनाने का काम भी शुरू कर दिया गया है। हाईवे पर 12 लेन के बनने वाले टोल प्लाजा को एक साल के भीतर तैयार कर दिया जाएगा। टोल प्लाजा के काम को शुरू कर दिया गया है। 

 

पंचकूला से बरवाला तक फोरलेनिंग के काम पर करीब 200 करोड़ रुपए खर्च किए जा रहे हैं। इसके लिए टैंडर हिसार की कंपनी गावड कंस्ट्रक्शन को दिया गया हैं। अहम बात यह है कि आने वाले समय में अगर 12 लेन पर वाहनों की संख्या बढ़ी और जाम लगने की नौबत आई तो 12 लेन वाले इस टोल प्लाजा में चार नई लेन को जोड़ा भी जा सकता है। इसका ग्राउंड वर्क पहले ही पूरा कर लिया गया है। 

 

21 सालों तक कंपनी करेगी देखरेख :
पंचकूला-यमुनानगर नैश्नल हाईवे पर टोल प्लाजा का काम शुरू किए जाने से पहले सर्वे किया गया था। सर्वे के मुताबिक 24 घंटे में करीब 26 हजार से ज्यादा वाहन गुजरते हैं, जिसमें भारी वाहनों की संख्या ज्यादा है। 

 

सर्वे के लिए बाकायदा सड़क के दोनों तरफ आने जाने वाले वाहनों के लिए सी.सी.टी.वी. कैमरे लगाए गए हैं ताकि कैमरों की मदद से वहां से गुजरने वाली गाडिय़ों की संख्या पता चल सके। बता दें कि जिस कंपनी को एन.एच.आई.ए. ने काम सौंपा है, वह 21 सालों तक हाइवे की पूरी देखरेख करेगी। 

 

पंचकूला-यमुनानगर मार्ग 104 कि.मी. :
बता दें कि पंचकूला-यमुनानगर तक इस हाईवे की लंबाई करीब 104 किलोमीटर हैं जिसमें से करीब 30 किलोमीटर का रास्ता जिला पंचकूला के अधीन आता है। अभी बरवाला बाईपास और मौली बाईपास के पुलों का काम अभी अधर में लटका हुआ है। इसे समय रहते पूरा करने का प्रयास किया जा रहा है। 

 

कुछ जगहों पर बरसाती नदियों पर पुलों को बनाने का काम भी चल रहा है। रामगढ़ में अंडर पास, नाडा साहिब में अंडर पास, मोगीनंद और आई.टी.बी.पी. के पास अंडर पास बनाने का चल रहा है। घग्घर नदी पर भी पुल बनाने का काम किया जा रहा है। एन.एच.आई.ए. के प्लान के अनुसार इस दौरान 14 पुलों का निर्माण किया जाना है। इन पुलों का काम एक साथ शुरू किया जाएगा। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You