पाक आतंकियों के ‘तुष्टीकरण’ के खिलाफ जरदारी की चेतावनी

  • पाक आतंकियों के ‘तुष्टीकरण’ के खिलाफ जरदारी की चेतावनी
You Are HereInternational
Monday, September 16, 2013-2:13 PM

इस्लामाबाद: पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी ने आतंकियों का ‘तुष्टीकरण’ किए जाने के खिलाफ चेतावनी देते हुए कहा कि पाकिस्तानी तालिबान द्वारा किए हमले में दो शीर्ष सैन्य अधिकारियों की मौत इस नीति की निरर्थकता को ही दर्शाती है। जरदारी ने कल कहा, ‘अगर आतंकियों के तुष्टीकरण की निरर्थकता के बारे में कोई भी संदेह है तो अंतरराष्ट्रीय लोकतंत्र दिवस की शाम को ऊपरी दीर में हुई घटना के बाद से यह संदेह मिट जाना चाहिए।’

जरदारी का यह बयान ऐसे दिन आया है जब पाकिस्तानी तालिबान ने खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के उपरी दीर में आईईडी धमाके में मेजर जनरल सनाउल्लाह, लेफ्टिनेंट कर्नल तौसीफ और एक लांस नाइक की हत्या कर दी। इस घटना की विश्लेषकों और स्थानीय मीडिया ने व्यापक तौर पर आलोचना की है। उन्होंने हाल ही में एक सर्वदलीय बैठक में पारित किए गए प्रस्ताव पर सवाल उठाए जो तालिबान और अन्य आतंकी संगठनों के साथ वार्ता करने की बात करता है। जरदारी की पार्टी पीपीपी भी इस बैठक का हिस्सा थी।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You