बंगलादेश में सेंट्रल बैंक की निगरानी में ग्रामीण बैंक

  • बंगलादेश में सेंट्रल बैंक की निगरानी में ग्रामीण बैंक
You Are HereInternational
Wednesday, November 06, 2013-4:47 PM

ढाका: बंगलादेश की संसद ने देश में ग्रामीणों को लघु ऋण की सुविधा मुहैया कराने के लिए नोबल पुरस्कार विजेता मोहम्मद यूनुस द्वारा स्थापित ग्रामीण बैंक को सेंट्रल बैंक की निगरानी के तहत लाने संबंधी विधेयक कल पारित कर दिया, हालांकि यूनुस ने इसका काफी विरोध किया था। संसद द्वारा ग्रामीण बैंक के संबंध में बनाए गए नए कानून के तहत अब यह बैंक भी अन्य बैंकों की तरह सेंट्रल बैंक की निगरानी में रहेगा।

बैंक को किसी नई नीति के संबंध में सरकार के साथ बातचीत करनी होगी। बैंक का 12 सदस्यीय बोर्ड अब अपने अनुसार बैंक की नीतियों में जब चाहे और जैसा चाहे परिवर्तन नहीं कर पाएगा। नए कानून के अनुसार बैंक के महाप्रबंधकों की सेवानिवृति की आयु 60 साल निर्धारित की है साथ ही अब बैंक को लगातार आडिट कराना होगा और आडिट रिपोर्ट संसद के सामने पेश करनी होगी।

इससे पहले सितम्बर में सरकार ने यूनुस पर विदेशों से होने वाली आय पर कर चोरी का आरोप लगाया था, जबकि यूनुस और उनके समर्थकों ने इसका विरोध करते हुए इसे राजनीति से प्रेरित आरोप बताया था। तभी से सरकार बैंक को सेंट्रल बैंक की निगरानी में लाने के प्रयास में थी, जबकि यूनुस इसका विरोध कर रहे थे।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You