बंदर समझ कर मारी महिला को गोली

  • बंदर समझ कर मारी महिला को गोली
You Are HereInternational
Friday, November 08, 2013-4:08 PM

दुबई: 'जाको राखे साइंया मार सके न कोई' यह कहावत तो आप ने सुनी ही होगा और साथ ही साथ आप ने यह भी सुना होगा कि जब मौत आती है, तो वह किसी न किसी बहाने से ले ही जाती है। उस घटना को देख कर कुछ ऐसा ही लगता है। जिसमें एक व्यक्ति ने बंदरिया समझकर एक महिला को मार डाला। डेली मेल की खबर में दी जानकारी के अनुसार, सऊदी में यह घटना तब घटी जब वह व्यक्ति शिकार पर गया था, जिसमें गोली लगने से महिला की मौत हो गई।

पुलिस ने कहा कि महिला पर जानबूझ कर गोली नहीं चलाई गई थी।19 वर्षीय शख्स शिकार पर ‌था और उसे लगा कि पेड़ की टहनी पर कोई जानवर बैठा है। उसने अपनी बंदूक से निशाना लगा गोली चला दी। गोली, सीधे जाकर महिला की छाती में लगी। उसके पास पहुंचने पर जब उसे पता चला के यह कोई बंदर नहीं बल्कि एक महिला थी तो उसके होश उड़ गए।

हालांकि, उसने महिला को जल्द से जल्द अस्पताल पहुंचाने की कोशिश की, लेकिन वहां पहुंचाने से पहले ही उसकी मौत हो गई। इस शख्स ने खुद ही अपने आप को पुलिस के हवाले कर दिया है। लेकिन पुलिस का भी यही मानना है कि उससे यह गलती जानबूझ कर नहीं की। महिला की उम्र 60 के करीब थी।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You