भारत-पाक रिश्ते मुंह के बल गिरे 2013 में

  • भारत-पाक रिश्ते मुंह के बल गिरे 2013 में
You Are HereNational
Saturday, December 28, 2013-4:21 AM

इस्लामाबाद : वर्ष 2008 के मुम्बई आतंकी हमलों के बाद बिगड़े रिश्तों को सुधारने की तमाम कोशिशों के बाद वास्तविक नियंत्रण रेखा पर 200 से अधिक संघर्ष विराम उल्लंघन और दोनों तरफ के बहुत से सैनिकों की मौत के कारण वर्ष 2013 में भारत और पाक के रिश्ते मुंह के बल गिरे। जनवरी में वर्ष की शुरूआत में ही नियंत्रण रेखा पर भारतीय क्षेत्र के भीतर 2 भारतीय जवानों की नृशंस तरीके से हत्या की गई और उनमें से एक का सिर काट लिया गया।

 भारत ने इन घटनाओं पर प्रतिक्रिया स्वरूप दोनों देशों के बीच 2011 में शुरू हुई द्विपक्षीय वार्ता को निलंबित कर दिया। पी.एम.एल.-एन. प्रमुख नवाज शरीफ मई के आम चुनाव में बहुमत के साथ तीसरी बार देश के प्रधानमंत्री बने। उन्होंने भारत के साथ शांति की बात तो की लेकिन नियंत्रण रेखा पर तनाव जारी रहा और दोनों ही पक्ष एक-दूसरे पर संघर्ष विराम के उल्लंघन का आरोप लगाते रहे।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You