देवयानी के संयुक्त राष्ट्र में तबादले के आवेदन की समीक्षा जारी: अमेरिका

  • देवयानी के संयुक्त राष्ट्र में तबादले के आवेदन की समीक्षा जारी: अमेरिका
You Are HereInternational
Wednesday, January 01, 2014-4:33 AM

वाशिंगटन: वरिष्ठ भारतीय राजनयिक देवयानी खोबरागड़े के संयुक्त राष्ट्र में स्थानांतरण तथा उन्हें पूर्ण राजनयिक छूट के लिए आवश्यक दस्तावेज जारी किए जाने संबंधी आवेदन की अमेरिका अभी भी समीक्षा कर रहा है। एक शीर्ष अधिकारी ने यह जानकारी दी, लेकिन यह नहीं बताया कि आवेदन पर कब तक निर्णय किया जाएगा।

विदेश विभाग के एक प्रवक्ता ने कल खोबरागड़े को पूर्ण राजनयिक का दर्जा दिए जाने के प्रश्न के जवाब में कहा, ‘‘इस पर अभी समीक्षा चल रही है। अभी हम यह अनुमान नहीं लगा सकते कि समीक्षा कब पूरी होगी। हम इसकी तुलना पूर्व के अनुरोधों से नहीं कर सकते, क्योंकि हर अनुरोध का मूल्यांकन उसकी गुणवत्ता के अनुसार किया जाता है।’’ विदेश मंत्रालय को न्यूयार्क में संयुक्त राष्ट्र से उनका (खोबरागड़े का) आवेदन 20 दिसंबर को प्राप्त हुआ था। सामान्य तौर पर विदेश विभाग इस तरह के मामलों में शीघ्र निर्णय लेता है, लेकिन इस बार अमेरिका अधिक समय ले रहा है।

गौरतलब है कि खोबरागड़े को 12 दिसंबर को वीजा जालसाजी के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। तब वह न्यूयार्क में भारतीय वाणिज्य दूतावास में उप महावाणिज्य दूत के रूप में नियुक्त थीं। अमेरिका का कहना है कि खोबरागड़े के दर्जे के आधार पर उन्हें पूर्ण राजनयिक छूट नहीं थी। उनकी गिरफ्तारी के कुछ दिन बाद भारत सरकार ने खोबरागड़े का स्थानांतरण संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी मिशन में कर दिया, ताकि उन्हें गिरफ्तारी से सुरक्षा के लिए जरूरी राजनयिक छूट मिल सके।

खोबरागड़े की गिरफ्तारी पर भारत ने बेहद कड़ा रूख अपनाते हुए आपत्ति जताई थी और अपने यहां (भारत में) अमेरिकी राजनयिकों को दी जाने वाली कई सुविधाओं को वापस ले लिया था। भारतीय राजनयिक देवयानी खोबरागड़े अभी भी बिना किसी राजनयिक छूट के अमेरिका में ही हैं। वे फिलहाल 250,000 अमेरिकी डॉलर की जमानत पर हैं और उनका पासपोर्ट अदालत में जमा है।
 

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You