हैरतअंगेज! रंगों की बाते सुन सकता है यह शख्स

  • हैरतअंगेज! रंगों की बाते सुन सकता है यह शख्स
You Are HereInternational
Thursday, March 20, 2014-1:20 PM

लंदन: हमारे शरीर में आंखों को सबसे अहम हिस्सा माना जाता है। आंखों से हम रंगों की पहचान कर सकते हैं, लेकिन क्या आपने कभी सुना है कि कोई इन रंगों को देखता नहीं बल्कि सुनता है।

जी हां, लंदन के रहने वाले नील भी कुछ ऐसे ही है। दरअसल बचपन से ही नील को एक्रोमैटोपसिया नाम की बीमारी है। इस बीमारी से ग्रसित लोगों को हर चीज सिर्फ काले और सफेद रंगों में ही नजर आती है।

मामला लंदन के कैमडेन का है। बीमारी की वजह से 31 वर्षीय नील चीजों को उनके असली रंग में देखने के लिए परेशान रहते थे। इस परेशानी का हल ढूंढते हुए डॉक्टरों  ने नील की आंखों की सर्जरी की और उसके दिमाग से निकलती एक मशीन लगाई जो पीछे से निकलती हुई उसकी आंखों के सामने आती है।

नील ने बताया कि इस मशीन में एक चिप और कैमरा लगा है जो रंगों की फ्रिक्वेंसी रिकार्ड करके उसे साउंड में बदल देती है। इसकी मदद से उन्हें हर रंग की अलग आवाज का पता चलता है और वह रंगों को देखने की बजाए सुन पाते हैं।

उन्होंने बताया कि उनके सिर पर लगी इस अनोखी मशीन को देख कर लोग उसे घूरते हैं। वह चाहते हैं कि डॉक्टर इस मशीन को उसके दिमाग के अंदर ही फिट कर दें। वह अपनी इस मशीन से मोबाइल पर आने वाली तस्वीरों को बिना देखे भी सुन सकते हैं। उनका कहना है कि एक तरह से उनके शरीर का हिस्सा ही है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You