आस्ट्रेलिया की शिआबो विधवा की रिहाई की अपील

  • आस्ट्रेलिया की शिआबो विधवा की रिहाई की अपील
You Are HereInternational
Sunday, July 16, 2017-2:01 PM

सिडनी: आस्ट्रेलिया ने चीन से नोबल शांति पुरस्कार से सम्मानित विद्रोही नेता लिउ शिआबो, जिनकी हिरासत में रहते हुए गत सप्ताह लीवर कैंसर से निधन हो गया, की विधवा पर से तमाम पाबंदियां हटाने की आज अपील की।  


वर्ष 2009 से जेल में बंद शिआबो का 61 वर्ष में निधन हो गया। उन पर राज्यसत्ता के खिलाफ लोगों को भड़काने का आरोप था। हालांकि गिरफ्तारी से पहले उन्होंने चीन में राजनीतिक सुधारों को व्यापक बनाने के लिए चार्टर नामक एक याचिका को लिखने में मदद भी की थी। उनकी पत्नी लिउ शिआ इन दिनों अस्पताल में हैं और पिछले कुछ सप्ताह में उनकी स्वास्थ्य की स्थिति में गिरावट ही आई है। हालांकि 2010 में शिआबो को नोबल शांति पुरस्कार मिलने के बाद से ही उन्हें घर के अंदर ही नजरबंद रखा गया है।

आस्ट्रेलिया के विदेश मंत्री जुली बिशप ने आस्ट्रेलियन ब्रॉडकासिंटग कार्पाेरेशन से बातचीत में कहा, हम चीनी सरकार से शिआबो की पत्नी से यात्रा पांबदियां हटाने और उन्हें तुरंत नजरबंदी से मुक्त करने की अपील करते हैं।
 

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You