भारत की राह पर चलने को बाध्य चीन, पाक को कही ये बात

  • भारत की राह पर चलने को बाध्य चीन, पाक को कही ये बात
You Are HereInternational
Tuesday, November 22, 2016-12:05 PM

बीजिंग: आतंकवाद के खिलाफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सख्त रुख के चलते चीन भी कश्मीर को लेकर भारत की राह पर चलने के लिए बाध्य हुआ है। बीजिंग ने अपने मित्र देश पाकिस्तान से दो टूक कहा है कि वह कश्मीर में आतंक फैलाने से बाज आए।आतंकवादियों को समर्थन देना बंद करे। घाटी में दहशतगर्दी से कुछ भी नहीं हासिल होगा। चीन ने इस्लामाबाद को यह सलाह अपने सरकारी अखबार 'ग्लोबल टाइम्स' के जरिए दी है।

चीन ने सुझाव दिया है कि दोनों देश कश्मीर मसले पर सुलह करें। ग्लोबल टाइम्स वेबसाइट के अनुसार, 'भारत और पाकिस्तान के बीच संघर्ष से दोनों देशों के विकास प्रभावित हुआ है। पाकिस्तानी सरकार, सेना और दूसरे समूहों को समझना चाहिए कि कश्मीर में आतंकी हमलों और सशस्त्र संघर्ष से कुछ नहीं मिलने वाला है।इससे घाटी में अराजकता बढ़ेगी और लोग बेवजह परेशान ही होंगे।'

ग्लोबल टाइम्स ने हालांकि मोदी की बलूचिस्तान नीति की आलोचना की है। अखबार के मुताबिक, 'वास्तव में यदि बलूचिस्तान अलग हो जाए तो इससे पाकिस्तानी सरकार का नियंत्रण देश से खत्म हो जाएगा।पाक टुकड़े-टुकड़े हो जाएगा।'  बीजिंग ने चेताया, 'अशांत और अराजक पाकिस्तान आतंकवाद का गढ़ बन जाएगा। फिर उससे निपटना भारत के लिए मुश्किल होगा। बहुत संभव है कि तब का पाकिस्तान भारत के मुस्लिम बहुल राज्यों में अलगाववाद को और बढ़ावा दे।' उसने कहा, 'भारत-पाक तनाव का असर पड़ोसी देशों पर भी पड़ रहा है।  china-

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You