मोदी के लिए कानपुर में 100 फुट लंबा मंच

  • मोदी के लिए कानपुर में 100 फुट लंबा मंच
You Are HereNational
Thursday, October 17, 2013-1:49 PM

लखनऊ: भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की उत्तर प्रदेश इकाई पार्टी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी की कानपुर में 19 अक्टूबर को होने वाली रैली को ऐतिहासिक बनाने की कोशिश में जुटी हुई है। मोदी रैली में 100 फुट लंबे मंच से संबोधित करेंगे। इसके अलावा पूरे मैदान में करीब 100 एलईडी स्क्रीन लगाई जाएंगी।

कानपुर के इंदिरानगर स्थित मैदान में आयोजित मोदी की रैली की तैयारियों को अंतिम रूप देने के लिए भाजपा के दिल्ली से लेकर लखनऊ तक नेता दिन रात जुटे हुए हैं। कानपुर के भाजपा जिलाध्यक्ष सुरेंद्र मैथानी ने बताया, ‘‘मुख्य मंच जहां से मोदी संबोधन करेंगे वह 100 फुट लंबा और 30 फुट चौड़ा बनाया गया है। इस मंच पर राष्ट्रीय अध्यक्ष राजनाथ सिंह भी मौजूद रहेंगे। इसके अलावा दो मंच और बनाए गए हैं जिनमें प्रदेश के वरिष्ठ नेता और पदाधिकारी विराजमान होंगे।’’

भाजपा का अनुमान है कि इस रैली में करीब तीन लाख लोग आएंगे। मोदी की बात लोगों तक पहुंचने में कोई दिक्कत न हो इसके लिए पूरे मैदान में करीब 100 एलईडी स्क्रीन लगाई जाएंगी। भाजपा ने मोदी की इस रैली को ‘विजय शंखनाथ रैली’ का नाम दिया है। माना जा रहा है कि उत्तर प्रदेश में होने वाली मोदी की यह पहली चुनावी रैली सफल रही तो भाजपा नेताओं और कार्यकताओं में जोश आएगा।

बीते दो दिन से कानपुर में डेरा डाले भाजपा प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मीकांत वाजपेयी हर रोज रैली की तैयारियों की समीक्षा कर रहे हैं। वाजपेयी ने कहा कि शनिवार को हमारे नेता एवं प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी दोपहर 2.35 बजे मैदान में पहुंचेंगे।  उन्होंने बताया कि मोदी को सुनने की ललक के कारण लगातार युवा वर्ग सहयोगी की भूमिका में अग्रसर हो रहा है और इसी वर्ग की ताकत के भरोसे भाजपा रैली को ऐतिहासिक बनाने में जुटी है।

उन्होंने कहा कि फेसबुक, ट्विटर तथा सीधे 022-45014501 नंबर पर डायल कर भाषण को सुना जा सकता है। इसी तरह रैलियों से संबंधित जानकारी 09328280005 पर मिस्ड काल करके ली जा सकती है। वाजपेयी और भाजपा के राष्ट्रीय मीडिया संयोजक श्रीकांत शर्मा की मौजूदगी में बुधवार को रैली में सोशल मीडिया के प्रयोग पर चर्चा हुई। मोदी की रैली के जरिए प्रदेश के ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचने की रणनीति बनाई गई। प्रयोग के तौर पर बुधवार की बैठक को सोशल मीडिया के जरिए 5 लाख लोगों तक पहुंचाया गया।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You