शिया विद्वान सादिक बोले, मोदी खुद को बदल लें तो भुलाया जा सकता है उनका अतीत

  • शिया विद्वान सादिक बोले, मोदी खुद को बदल लें तो भुलाया जा सकता है उनका अतीत
You Are HereNational
Saturday, October 26, 2013-12:44 PM

लखनऊ: लोकसभा चुनाव से पहले प्रतिष्ठित शिया उलेमा और आल इंडिया मुस्लिम पर्सनल ला बोर्ड के उपाध्यक्ष मौलाना कल्बे सादिक ने भाजपा को सुकूनबख्श संदेश देते हुए कहा है कि नरेंद्र मोदी के अतीत को भुलाया जा सकता है, बशर्ते कि वह अपने आप को बदलें।

सादिक ने शुक्रवार को यहां कहा, ‘‘मैं पूरी मुस्लिम कौम की ओर से नहीं, लेकिन व्यक्तिगत स्तर पर यह कहने को तैयार हूं कि मोदी अगर खुद को बदल लें तो उनके अतीत को भुलाया जा सकता है।’’

अपने प्रगतिशील ख्यालों के लिए मशहूर प्रतिष्ठित शिया विद्वान सादिक ने साथ ही यह भी कहा कि बदलाव सिर्फ शब्दों से नहीं बल्कि काम और कृत्य में दिखना चाहिए।

उन्होंने कहा, ‘‘अगर मोदी खुद को बदलते हैं तो मैं उनके समर्थन को तैयार हूं। यह बात मैं पूरी मुस्लिम कौम की तरफ से नहीं कह सकता। मगर मैं निजी तौर पर उनके समर्थन में खड़ा हो सकता हूं। यदि वे बदलने को तैयार हैं तो हम भी समर्थन देने को तैयार हैं।’’

मौलाना सादिक ने कहा, ‘‘मोदी के शब्दों और उनके कृत्यों में अब तक अंतर रहा है। गुजरात दंगों के बाद कौम का उन पर भरोसा नहीं हो पा रहा है।’’ यह पूछे जाने पर कि क्या मोदी को गुजरात दंगों के लिए सार्वजनिक तौर पर माफी मांगनी चाहिए, सादिक ने कहा कि माफी की जगह उन्हें अपने कृत्यों से साबित करना होगा कि उन्होंने खुद को सुधार लिया है। उन्होंने कहा कि आज देश के सामने हिंदू मुसलमान का मुद्दा छोटा है। चीन एवं पाकिस्तान से खतरा बड़ा है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You