14 दिन की पुलिस रिमांड पर टूण्डा

  • 14 दिन की पुलिस रिमांड पर टूण्डा
You Are HereNational
Sunday, October 27, 2013-4:38 PM

पानीपत: 1997 में पानीपत में हुए बम ब्लास्ट के मुख्य आरोपी बम विषेशज्ञ अब्दुल करीम अलियास उर्फ टूण्डा को आज पुलिस ने भारी सुरक्षा में न्यायाधीष कमल कंवर की कोर्ट में पेश किया। जहां से न्यायालय ने टूण्डा को 14 दिन के रिमांड पर पुलिस के हवाले कर दिया। जानकारी के अनुसार टूण्डा पर देशद्रोही समेत 37 संदिग्ध मामले देश के विभिन्न हिस्सों में दर्ज हैं।

1 फरवरी 1997 को कालखा सोसाइटी ट्रस्ट की निजी बस में टूण्डा द्वारा एक बम ब्लास्ट करवाया गया था। जिसमें 1 महिला की मौत हो गई थी और दर्जनों लोग गम्भीर रूप से घायल हो गए थे। इसी मामले में पानीपत पुलिस उसी दिन से इसकी तालाश में थी। टूण्डा पर देश के विभिन्न हिस्सों में बम ब्लास्टों में सलिंप्तता समेत 37 मुकदमें दर्ज हैं और देष की अनेकों सुरक्षा एजेनिसयां इसकी तालाश में थी।

आखिरकार इसे 16 अगस्त को दिल्ली की स्पैशल सैल पुलिस ने इसे नेपाल बोर्डर से गिरफ्तार कर लिया। टूण्डा हरियाणा के सोनीपत सिनेमा हाल बम ब्लास्ट व पानीपत के बस बम कान्ड में भी मुख्य आरोपी था। आज पानीपत पुलिस इसे सोनीपत कोर्ट से प्रोटैक्षन पर लेकर पानीपत न्यायालय में पहुंची और न्यायाधीष कमल कंवर की कोर्ट में पेश किया। जहां से न्यायालय ने इसे 14 दिन के रिमांड पर पुलिस के हवाले कर दिया। पुलिस को इससे कई बड़े खुलासों की उम्मीद है।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You