नमो की रैली में अर्धसैनिक बलों की मांग

  • नमो की रैली में अर्धसैनिक बलों की मांग
You Are HereNational
Thursday, November 07, 2013-3:43 PM

लखनऊ /बहराइच: भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेन्द्र मोदी की बहराइच में होने वाली रैली को लेकर एक तरफ  जहां खुफिया ब्यूरो (आईबी) ने राज्य सरकार को अलर्ट जारी किया है वहीं जिला प्रशासन की बेरुखी से नाराज भाजपाइयों ने रैली की सुरक्षा में अर्धसैनिक बलों को लगाए जाने की मांग की है।

रैली स्थल के संयोजक सुरेश्वर सिंह की मानें तो जिला प्रशासन ने अभी लिखित तौर पर महाराजा सुहेलदेव रैली स्थल को ही मंजूरी नहीं दी है। इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि रैली को लेकर जिला प्रशासन किस तरह की लापरवाही बरत रहा है। इस बीच मोदी की रैली को लेकर सुरक्षा की तैयारियां लगभग पूरी हो चुकी हंै। रैली की सुरक्षा को लेकर आईबी पहले ही राज्य सरकार को अलर्ट जारी कर चुकी है। आईबी की तरफ  से अहम जानकारियां मिलने के बाद अब जिला प्रशासन ने पीएसी व अतिरिक्त पुलिस कर्मियों की तैनाती कर दी है।

पटना में हुए बम धमाकों के बाद मोदी की बहराइच रैली को लेकर इस बार गुजरात की पुलिस भी खासी सतर्क हो गई है। वहां के पुलिस अधिकारियों की एक टीम पहले ही यहां आकर सुरक्षा इंतजामों की जानकारी लेनी शुरू कर दी है। सुरक्षा के मद्देनजर भाजपा की तरफ  से अर्धसैनिक बलों की मांग की गई है। भाजपा का कहना है कि रैली स्थल की सुरक्षा को लेकर जिला प्रशासन की ओर से अलग-अलग तरह की शर्तें रखी जा रही हैं। प्रशासन से कहा गया है कि यदि रैली की सुरक्षा उसके वश की बात नहीं है तो अर्धसैनिक बलों को लगाया जाए।

रैली के संयोजक व पूर्व विधायक सुरेश्वर सिंह ने कहा कि अर्धसैनिक बलों की मांग की गई है। बहराइच आतंकियों की शरणस्थली बन चुकी है। चूंकि बहराइच नेपाल सीमा से सटा हुआ जनपद है और पूर्व में यहां से कई आतंकी गिरफ्तार भी किए जा चुके हैं इसलिए सुरक्षा के लिहाज से यह मांग उठाई गई है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You