अगर इंडियन मुजाहिदीन मेरे कहने पर चलता तो देशभर में बहुत दंगे होते: शिंदे

  • अगर इंडियन मुजाहिदीन मेरे कहने पर चलता तो देशभर में बहुत दंगे होते:  शिंदे
You Are HereNational
Monday, November 11, 2013-4:13 PM

नई दिल्ली:  केन्द्रीय गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे ने आज कहा कि वह भारतीय जनता पार्टी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेन्द्र मोदी को कांग्रेस के लिए कोई चुनौती नहीं मानते। शिंदे ने आज यहां संवाददाताओं से कहा कि कांग्रेस एक बडी और पुरानी पार्टी है। उसने सौ साल से अधिक समय के अपने इतिहास में कई चुनौतियों का सामना किया है और आगे भी करती रहेगी। उन्होंने कहा कि मोदी के नेतृत्व में भाजपा को वह कांग्रेस के लिए कोई चुनौती नहीं मानते।

उन्होंने 2004 में भाजपा के नेतृत्व वाली राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन सरकार की पराजय का जिक्र करते हुए कहा कि उस समय भी कांग्रेस के सामने 'शाइनिंग इंडिया' की चुनौती थी। लेकिन जनता ने राजग सरकार के इस नारे को नजरंदाज कर  कांग्रेस को चुना जो तब से लगातार सत्ता पर कायम है। गौरतलब है कि वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने रविवार को  मोदी को कांग्रेस के लिए चुनौती बताया था लेकिन यह भी कहा था कि देश से संबंधित कई महत्वपूर्ण मुद्दों पर मोदी के विचार स्पष्ट नहीं हैं।

शिंदे ने मोदी के इस आरोप का खंडन किया कि कांग्रेस को चुनावों में केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सी बी आई) और आतंकवादी संगठन इंडियन मुजाहिदीन से मदद मिल रही है। उन्होंने कहा कि मोदी को ऐसी अनर्गल बात कहने बचना चाहिए क्योंकि भाजपा की सरकार के अधीन भी सी बी आई काम करती रही है।

इंडियन मुजाहिदीन से संबंधित आरोप पर उन्होंने कहा कि इस तरह का खयाल भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार के दिमाग में आना हैरानी की बात है। उन्होंने मोदी को संभल कर बोलने की सलाह देते हुए कहा कि उन्हें ऐसी बात करने से बचना चाहिए जो कानून सम्मत नहीं हो। शिंदे ने एक बेतुका बयान दिया है। बीजेपी के पीएम इन वेटिंग नरेंद्र मोदी को जवाब देने के चक्कर में उन्होंने कहा कि अगर इंडियन मुजाहिदीन (आईएम) मेरे कहने पर चलता तो देशभर में बहुत दंगे होते।

शिंदे ने मोदी को स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप (एस पी जी) की सुरक्षा दिए जाने की संभावना को सिरे से खारिज किया। उन्होंने कहा कि एस पी जी की सुरक्षा निर्धारित कानून के तहत दी जाती है और यह  मोदी को नहीं मिल सकती। उन्होंने कहा कि  मोदी को पर्याप्त सुरक्षा मुहैया कराई गई है । उनकी सुरक्षा में नेशनल सेक्योरिटी गाड्र्स (एन एस जी) को तैनात किया गया है। हाल में उनकी सुरक्षा बढाई गई है। जरूरत पडी तो उनकी सुरक्षा में तैनात एन एस जी के जवानों की संख्या को बढाया जा सकता है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You