नौकरानी हत्याकांड: मां की मौत से खौफ में बेटा, नहीं आना चाहता अंत्येष्टि पर

  • नौकरानी हत्याकांड: मां की मौत से खौफ में बेटा, नहीं आना चाहता अंत्येष्टि पर
You Are HereNational
Tuesday, November 12, 2013-10:10 AM

नई दिल्ली: बसपा सांसद धनंजय की पत्नी जागृति द्वारा कथित तौर पर पीट कर मार डाली गई नौकरानी राखी भद्रा का 21 साल का बेटा अपनी मां की अंत्येष्टि के लिए दिल्ली आने से डर रहा है। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि शहजान दिल्ली वापस आने को तैयार नहीं है और पश्चिम बंगाल के उत्तरी 24 परगना जिले में डेरा डाले हुए पुलिस की एक टीम उसे मनाने के लिए हर कोशिश कर रही है।

यहां चाणक्यपुरी पुलिस थाने के बाहर से बृहस्पतिवार की रात लापता हुए शहजान के शनिवार-रविवार की रात पश्चिम बंगाल में अपने घर पर होने का पता चला था। पुलिस टीम स्थानीय पुलिस, कुछ स्थानीय गैर सरकारी संगठन और उसके पड़ोसियों की मदद से उसे दिल्ली वापस आने तथा अंत्येष्टि के लिए अपनी मां का शव घर लाने के लिए मना रही है। शहजान के पिता की मौत कई साल पहले हो गई थी। वह शादीशुदा है और उसके दो बच्चे हैं। वह बृहस्पतिवार की रात भाग गया था।

जांचकर्ताओं ने उसके दो मोबाइल नंबरों पर संपर्क करने की कोशिश की लेकिन दोनों नंबर बंद पाए गए। पुलिस ने बताया कि जागृति द्वारा कथित तौर पर तरह पीटी गई एक अन्य नौकरानी मीना का फिलहाल यहां राम मनोहर लोहिया अस्पताल में इलाज चल रहा है। उसके परिवार के सदस्यों का पता लगाया जा रहा है और उसे दिल्ली लाने की कोशिश जारी है। इस बीच पुलिस ने बताया कि जागृति के साढ़े तीन साल के बेटे ने अपनी मां से मिलने से इंकार कर दिया है। वह धनंजय के निजी सुरक्षा अधिकारी के पास रह रहा है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You