न्यूज चैनल व नेताओं के बहकावे में लगाए आसाराम पर आरोप: भोलानाथ

  • न्यूज चैनल व नेताओं के बहकावे में लगाए आसाराम पर आरोप: भोलानाथ
You Are HereNational
Saturday, November 16, 2013-8:56 AM

जम्मू: जम्मू के भगवती नगर में स्थित आसाराम आश्रम में बच्चों के कंकाल दबाए जाने की अफवाह उड़ा कर सनसनी फैलाने के आरोप में गिरफ्तार आश्रम के पूर्व संचालक विनोद गुप्ता उर्फ भोलानाथ ने पुलिस रिमांड के दौरान खुलासा किया गया कि उसने यह आरोप एक राष्ट्रीय न्यूज चैनल के मुख्य संपादक और कुछ नेताओं के बहकावे में आकर लगाए थे।

पुलिस सूत्रों के अनुसार पूछताछ में भोलानाथ द्वारा किए गए इस खुलासे के बाद पुलिस अब उसके मोबाइल फोन की कॉल डिटेल खंगाल रही है और भोला नाथ द्वारा की गई वायस रिकार्डिंग के आधार पर निकट भविष्य में संबधित लोगों से पूछताछ की जा सकती है। विदित हो कि छात्रा से यौन शौषण मामले में घिरे आसाराम के खिलाफ जब चौतरफा आलोचना का दौर शुरू हुआ तो जम्मू के भगवती नगर स्थित आसाराम के आश्रम के पूर्व केयरटेकर भोलानाथ ने यह दावा कर सनसनी फैला दी थी कि इस आश्रम में तीन बच्चों के कंकाल दबाए हुए हैं। इन आरोपों के आधार पर एक समाजिक कार्यकर्ता की शिकायत पर कड़ा संज्ञान लेते हुए कोर्ट ने पुलिस को इस संदर्भ में मामला दर्ज कर आश्रम की जांच करने के निर्देश जारी किए थे।

इस मामले में यू-टर्न तब आया जब भगवती नगर निवासी एक व्यक्ति ने भोलानाथ पर आरोप लगाया कि भोलानाथ ने उसे फोन कर आश्रम में कंकाल दबाने के लिए कहा ताकि मीडिया के सामने किया गया उसका दावा सत्य साबित हो सके। इस फोन की कॉल रिकार्डिंग पुलिस व कोर्ट के समक्ष पेश करने के उपरान्त पुलिस ने मूलत: राजस्थान निवासी (वर्तमान में मुम्बई में रह रहे) भोलानाथ के खिलाफ आसाराम के विरूद्ध साजिश करने के आरोप में मामला दर्ज कर उसकी तलाश शुरू की थी। वीरवार को जम्मू पुलिस ने भोलानाथ को एक होटल से गिरफ्तार कर पूछताछ के लिए पांच दिन की पुलिस रिमांड पर लिया था। पुलिस द्वारा की गई गहन पूछताछ के दौरान भोलानाथ द्वारा किए गए खुलासे के उपरान्त मीडिया से जुड़ी कई नामी हस्तियों व नेताओं के नाम सामने आने की सम्भावना है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You