प्लेसमेंट एजेंसी के मालिक के खिलाफ मुकदमा दर्ज

  • प्लेसमेंट एजेंसी के मालिक के खिलाफ मुकदमा दर्ज
You Are HereNational
Monday, November 18, 2013-9:18 PM

नई दिल्ली: दक्षिण जिला के संगम विहार इलाके से रविवार को नेब सराय पुलिस ने बचपन बचाओं आंदोलन एनजीओं की मदद से छुड़ाई गई दोनों नाबालिग नौकरानियों के बयान के बाद प्लेसमेंट एजेंसी के मालिक संजय गुप्ता के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर लिया है।

पुलिस से मुक्त कराई गई दोनों नाबालिगों को सोमवार को राष्ट्रीय महिला आयोग में पेश किया गया। उनके बयान के बाद मामला दर्ज किया गया है। हालांकि अभी तक आरोपी प्लेसमेंट एजेंसी के मालिक को गिरफ्तार नहीं किया गया है।

पुलिस ने रविवार दोपहर बचपन बचाओं आंदोलन की शिकायत पर दोनों नाबालिग नौकरानियों को संगम विहार स्थित संजय गुप्ता के घर से मुक्त कराया था। एनजीओ के सदस्य संजय ने बताया कि उन्हें शिकायत मिली थी कि अपनी दोनों पत्नियों की मदद से नाबालिग बच्चियों को दिल्ली लाता है और उनके साथ मारपीट करता है। सूचना के बाद पुलिस ने दोनों लड़कियों को मुक्त कराया गया। अभी दोनों लड़कियों को निर्मल छाया भेज दिया गया ।

दो शादी कर चुका है आरोपी:
जानकारी के अनुसार संजय गुप्ता अपने परिवार के साथ संगम विहार इलाके में रहता है। वह अपने घर पर ही प्लेसमेंट एजेंसी चलाता है। उसने दो शादियां कर रखी है। एक बीवी पश्चिम बंगाल की रहने वाली है जबकि दूसरी उड़ीसा की रहने वाली है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You