लालू ने सर्वोच्च न्यायालय में जमानत याचिका दायर की

  • लालू ने सर्वोच्च न्यायालय में जमानत याचिका दायर की
You Are HereNational
Monday, November 25, 2013-11:49 PM

नई दिल्ली: राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेता लालू प्रसाद ने सोमवार को चारा घोटाला मामले में सर्वोच्च न्यायालय में जमानत की अर्जी दायर की। करोड़ों रुपये के चारा घोटाले में वह इस समय पांच वर्ष के सश्रम कारावास की सजा काट रहे हैं। वरिष्ठ वकील पी. एच. पारेख ने मामले को सर्वोच्च न्यायालय के प्रधान न्यायाधीश न्यायमूर्ति पी. सतशिवम, न्यायमूर्ति रंजना प्रकाश देसाई और न्यायमूर्ति रंजन गोगोई की अदालत के समक्ष पेश किया। इस मामले की सुनवाई शुक्रवार को होने की संभावना है।

लालू प्रसाद ने झारखंड उच्च न्यायालय के 31 अक्टूबर के उस अंतरिम आदेश को चुनौती दी है जिसमें उनकी जमानत की अर्जी खारिज कर दी गई थी। रांची में सीबीआई की एक विशेष अदालत ने 30 सितंबर को चारा घोटाले में लालू प्रसाद, बिहार के ही एक अन्य पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्रा, जनता दल (युनाइटेड) के सांसद जगदीश शर्मा सहित अन्य को दोषी ठहराया था।

सीबीआई के न्यायाधीश प्रवास कुमार सिंह ने तीन अक्टूबर को लालू प्रसाद को पांच वर्ष के सश्रम कारावास की सजा सुनाई थी। झारखंड उच्च न्यायालय के अंतरिम आदेश को दोषपूर्ण बताते हुए लालू प्रसाद ने अपनी जमानत याचिका में कहा है कि इसी मामले में उन्हीं अपराधों के लिए सह आरोपी आर. के. राणा को जमानत दे दी गई। राणा को भी लालू की ही तरह उच्च न्यायालय ने पांच वर्ष के सश्रम कारावास की सजा सुनाई है।

लालू की याचिका में कहा गया है कि राणा को पशुपालन विभाग से जुड़े एक मामले में 2009 में दोषी करार दिया गया था, तथा उन्हें भी पांच वर्ष के कारावास की सजा सुनाई गई थी। लालू ने अपनी याचिका में कहा, ‘‘याचिकाकर्ता (लालू प्रसाद) के साथ जमानत दिए जाने के मामले में कुछ सह आरोपियों की अपेक्षा अलग तरीके से व्यवहार किया जा रहा है, जबकि एकसमान अपराध के लिए एकसमान साजे पाने वाले आरोपियों को जमानत दे दी गई।’’


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You