सोशल मीडिया की निगरानी में कमियां : दिल्ली निर्वाचन आयोग

  • सोशल मीडिया की निगरानी में कमियां : दिल्ली निर्वाचन आयोग
You Are HereNational
Monday, December 02, 2013-6:48 PM

नई दिल्ली: दिल्ली निर्वाचन आयोग ने आज माना कि सोशल मीडिया की निगरानी में कमियां हैं। उसने कहा कि इस तरह के संचार से निपटने के लिए कठोर तंत्र की आवश्यकता है जिसपर फिलहाल नजर रखना वस्तुत: ‘असंभव’ है। मुख्य निर्वाचन अधिकारी विजय देव ने कहा, ‘‘सोशल मीडिया से निपटना कठिन है, खासतौर पर तब जब चुनाव आयोग ने अब तक उम्मीदवारों और राजनैतिक दलों के ऑनलाइन एकाउन्ट से निपटने का आदेश दिया है और इसलिए बड़ी खामी है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘इन राजनैतिक दलों या उम्मीदवारों की तरफ से कोई भी नागरिक फेसबुक, ट्विटर या अन्य सोशल नेटवर्किंग साइटों पर किसी भी चीज के साथ लोगों को प्रभावित करने के लिए आ सकता है और हमारा उनपर कोई नियंत्रण नहीं हो सकता है।’’ उन्होंने कहा कि इस मुद्दे से निपटने के लिए कठोर तंत्र की आवश्यकता है।

उन्होंने कहा कि जहां तक उम्मीदवारों और संबद्ध राजनैतिक दलों का सवाल है तो चुनाव अधिकारी उनका सोशल मीडिया एकाउन्ट नंबर ले रहे हैं और इस बात को सुनिश्चित कर रहे हैं कि जो भी सामग्री वे डाल रहे हैं, उसका खर्च छाया रजिस्टर में डालें। उन्हें होस्टिंग से पहले प्रमाणन हासिल करना होगा। मीडिया संगठनों द्वारा किए जा रहे स्टिंग ऑपरेशन के मुद्दे पर देव ने कहा, ‘‘हम अंपायर की भूमिका निभाते हैं। हम किसी की भी तरफ से किसी भी चीज की जांच नहीं करते हैं। यह उनपर है कि वे खुद से कानूनी कार्रवाई करें।’’


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You