न्यायाधीश गांगुली के इस्तीफे पर तृणमूल व शिवसेना ने मिलाया सुर

  • न्यायाधीश गांगुली के इस्तीफे पर तृणमूल व शिवसेना ने मिलाया सुर
You Are HereNational
Tuesday, December 10, 2013-2:03 PM

कोलकाता: पश्चिम बंगाल में सत्तारुढ तृणमूल कांग्रेस के साथ ही शिवसेना ने भी आज महिला प्रशिक्षु के यौन शोषण के आरोपी अशोक कुमार गांगुली के पश्चिम बंगाल मानवाधिकार आयोग के अध्यक्ष पद से इस्तीफे की मांग की। तृणमूल कांग्रेस के नेता डेरेक ओ ब्रायन ने ट्विटर पर लिखा  न्यायमूर्ति गांगुली मानवाधिकार दिवस के अवसर पर अगर आज ही इस्तीफा दे देते हैं तो अच्छा रहेगा।  मानवाधिकारों का उल्लंघन करने वाला ही रक्षक नहीं हो सकता। इसी बीच शिवसेना ने भी तृणमूल कांग्रेस के सुर में सुर मिलते हुए न्यायमूर्ति गांगुली के इस्तीफे की मांग क रते हुए कहा कि नैतिक आधार पर  न्यायमूर्ति गांगुली को राज्य मानवाधिकार आयोग के अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे देना चाहिए।

उच्चतम न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश गांगुली पर अपनी महिला प्रशिक्षु के यौन शोषण का आरोप है। मामले की जांच करने वाली तीन न्यायाधीशों की उच्चतम न्यायालय द्वारा गठित समिति ने भी अपनी रिपोर्ट में कहा कि महिला प्रशिक्षु के साथ पूर्व न्यायाधीश का व्यवहार अशोभनीय था और उनका यह कृत्य यौन शोषण के दायरे में आता है। इससे पहले पिछले सप्ताह पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी को पत्र लिखकर न्यायमूर्ति गांगुली को हटाने की मांग की थी।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You