दिल्ली-NCR की कंपनियां महिला सुरक्षा को लेकर सर्वाधिक सचेत

  • दिल्ली-NCR की कंपनियां महिला सुरक्षा को लेकर सर्वाधिक सचेत
You Are HereNational
Monday, December 16, 2013-12:53 PM

कोलकाता: कार्यस्थल में यौन शोषण की लगातार ब रही घटनाओं से निबटने के लिए दिल्ली और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) की सर्वाधिक कंपनियों ने मौन प्रतारण प्रकोष्ठ बनाए है। देश के प्रमुख औद्योगिक संगठन (एसोचेम) की सामाजिक मामलों से जुडी शाखा एसोचेम सामाजिक विकास संस्थान (एएसडीएफ) द्वारा हाल ही में कराये गए एक अध्ययन में यह खुलासा हुआ है।

इसमें बताया गया कि दिल्ली और एनसीआर में काम करने वाली लगभग 49 कंपनियों ने कार्यस्थल पर महिलाओं के यौन शोषण के मामलों पर सख्त रवैया अपनाते हुए विशाखा गाइड लाइन के तहत अपने यहां प्रकोष्ठ की स्थापना की है। इस मामले में दिल्ली ने मुम्बई को भी पीछे छोड़ दिया है।

अध्ययन में बताया गया कि इस संबंध में उच्चतम न्यायालय के दिशा निर्देश के अनुसार मुम्बई में 38 प्रतिशत. कोलकाता में 42 प्रतिशत.बेंगलूर में 46 प्रतिशत के साथ अन्य शहरों में मौजूद विभिन्न क्षेत्र की कंपनियों ने अपने यहां यौन शोषण के खिलाफ सेल या किसी समिति का गठन किया है।

इस संबंध मे सरकार द्वारा जारी की गयी सलाह के अनुसार काम करते हुए दिल्ली एनसीआर में कंपनियों ने पिछले एक साल में महिला सुरक्षा पर खर्च में लगभग 25 प्रतिशत का इजाफा किया है। लगभग 40 प्रतिशत कंपनियों ने इस संबंध में लगातार अपने कर्मचारियों विशेषकर महिला कर्मचारियों के लिए कार्यशालाओं का आयोजन किया ताकि उनको आ रही दिक्कतों की समझ कर उनके समाधान के लिए काम किया जा सके।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You