मोदी हुए 'मोम' के

  • मोदी हुए 'मोम' के
You Are HereNational
Sunday, December 22, 2013-4:32 PM

मुंबई: प्रधानमंत्री पद के लिए भाजपा के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी की उपनगरीय बांद्रा में आयोजित ‘महागर्जना रैली’ से पहले उनकी मोम की प्रतिमा का अनावरण किया गया। मोदी की इस रैली में दस हजार चायवालों को खास तौर पर आमंत्रित किया गया है। भाजपा अध्यक्ष राजनाथ सिंह ने इस प्रतिमा का अनावरण किया। इसके बाद ये दोनों नेता रैली के लिए निकले। सिंह और मोदी ने इस प्रतिमा के साथ खड़े होकर तस्वीर खिंचवाई। भाजपा प्रमुख ने इस प्रतिमा से हाथ मिलाने की भी कोशिश की। भाजपा के वरिष्ठ नेता गोपीनाथ मुंडे ने कहा कि इस रैली में दस लाख से ज्यादा लोगों के जुटने की संभावना है।

 

बीकेसी मैदानों में आयोजित इस रैली को भाजपा कार्यकर्ताओं की ताकत के प्रदर्शन के रूप में देखा जा रहा है। महाराष्ट्र के अलग-अलग हिस्सों से भाजपा के समर्थकों को 22 से ज्यादा ट्रेनों में लाया गया है। आयोजकों ने पांच लाख से ज्यादा भोजन के पैकेट बांटने का प्रबंध किया है। इनमें से बहुत से पैकेटों में गुजराती ‘थेपला’ भी है। इस रैली में विशेष तौर पर आमंत्रित किए गए लोगों में लगभग 10 हजार चायवाले भी शामिल हैं।

 

महाराष्ट्र भाजपा इकाई के अध्यक्ष देवेंद्र फडऩवीस ने कहा, ‘‘समाजवादी पार्टी से किसी ने कहा था कि मोदी एक चायवाले थे और एक चायवाला प्रधानमंत्री नहीं बन सकता। तब मोदी जी ने जवाब दिया था, ‘देश बेचने वालों से चाय बेचने वाले अच्छे होते हैं।’ उन्होंने कहा, ‘‘इससे चायवालों के बीच एक तरह के गौरव का भाव पैदा हो गया और उन्होंने हमसे संपर्क किया। तब हमने उनसे कहा, ‘हां, आप आइए। हम आपको बैठने की जगह देंगे।’ भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी और शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे इस रैली में शामिल नहीं हो रहे।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You