गुड गवर्नेंस के जरिए विजय रथ पर सवार होगी भाजपा

  • गुड गवर्नेंस के जरिए विजय रथ पर सवार होगी भाजपा
You Are HereNational
Wednesday, December 25, 2013-9:46 PM

नई दिल्ली : पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनावों में 3 राज्यों में भाजपा को मिली ऐतिहासिक जीत से पार्टी के हौसले जहां बुलंद है, वहीं कांग्रेस का ग्राफ नीचे गिरा है। भाजपा इसी जीत के जश्न को 2014 के लोकसभा चुनावों तक ले जाना चाहती है। यही कारण है कि वह सिर्फ अपने दम पर 200 सीटों का आंकड़ा पार करना चाहती है। साथियों को मिलाकर 272 से अधिक सीटें जीतने का टारगेट सुनिश्चित किया है। इसके लिए भाजपा गुड गवर्नेंस एवं मोदी फॉर पीएम कैंपेन के जरिए मैदान में उतरेगी, इसका पूरा खाका खींच दिया है।  

कांग्रेस की पिछली सरकार लगभग 12 करोड़ मतदाताओं के समर्थन से बनी थी। जबकि भाजपा लगभग आठ करोड़ मतों के साथ 116 के ही आंकड़े पर रूक गई थी। भाजपा इस बार कांग्रेस के इन्हीं वोटरों पर नजर गड़ाई हुई है। जिन सीटों पर भाजपा कांग्रेस के बाद नंबर दो पर रही थी, उन सीटों पर भाजपा को लगभग 89 लाख कम वोट मिले थे।

भाजपा की योजना है कि जिन-जिन सीटों पर वह नंबर दो पर रहे, वहां नई रणनीति के तहत सीट पर कब्जा कर लिया जाए। राजनाथ सिंह ने कहा कि देश में कांग्रेस विरोधी लहर है और जनता की पहली पसंद भाजपा ही है। भाजपा ने दिल्ली में आप की तर्ज पर बनी भाजपा की यह रणनीति दरअसल लगभग 20 करोड़ मतदाताओं को साथ अपने जोडऩे की कोशिश है। इसके लिए वन वोट, वन नोट का नारा दिया गया है। मोदी के नेतृत्व में भाजपा नए वोटरों पर भी नजर गड़ाए हुए है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You