केजरीवाल के आश्वासन पर ऑटो चालकों ने टाली हड़ताल

  • केजरीवाल के आश्वासन पर ऑटो चालकों ने टाली हड़ताल
You Are HereNational
Friday, December 27, 2013-11:52 PM

नई दिल्ली (धनंजय कुमार): दिल्ली में नई सरकार भले ही शनिवार को गठित हो रही हो, लेकिन इससे पहले सी.एन.जी. के दाम में 4.5 रुपए की बढ़ौतरी से ऑटो-टैक्सी चालक ही नहीं आम लोगों की परेशानी भी बढ़ गई है। उनका कहना है कि सरकार बनने से पहले ही यह हाल है तो बाद में हमारी स्थिति का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है।

ऑटो-टैक्सी चालक जहां सी.एन.जी. के दाम वापस लेने या किराए में बढ़ौतरी की मांग कर रहे हैं। दिल्ली के भावी मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के आश्वासन पर ऑटो-टैक्सी चालकों ने तो अगले साल 7 जनवरी को घोषित हड़ताल वापस ले ली है, लेकिन आम लोगों की परेशानी बढ़ गई है।

उन्हें ङ्क्षचता सताने लगी है कि यदि ऑटो-टैक्सी किराए में बढ़ौतरी होती है तो महंगाई की एक और मार पडऩी तय है क्योंकि सी.एन.जी. के दाम में कमी न होने की स्थिति में किराए में बढ़ौतरी के भी साफ संकेत दे दिए हैं।

वैसे सी.एन.जी. के दाम में बढ़ौतरी से ऑटो चालकों पर 13 पैसे, टैक्सी चालकों पर 22 पैसे तथा बस चालकों पर 1.30 रुपए का अतिरिक्त भार पड़ेगा। इस बढ़ौतरी से दिल्ली परिवहन निगम पर भी प्रतिदिन 2 करोड़, 19 लाख, 58 हजार, 875 रुपए का अतिरिक्त भार बढ़ेगा।

स्कूल वैन चालक संघ भी नाराज :
सी.एन.जी. के दाम बढऩे से स्कूल वैन चालक भी नाराज हैं। स्कूल वैन ऑपरेटर वेलफेयर एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष हर्ष दुआ कहते हैं कि यदि सी.एन.जी. के दाम कम नहीं किए जाते हैं तो हम भाड़ा बढ़ाएंगे। इसके लिए हम अभिभावकों से बात कर रहे हैं।

गौरतलब है कि स्कूल वैन चालक प्रति छात्र करीब एक हजार रुपए लेते हैं। जिसमें बढ़ौतरी होने की स्थिति में अभिभावकों पर महंगाई की एक और मार पड़ेगी।

दिल्ली परिवहन निगम की बसों की स्थिति
बसें                               संख्या
नॉन ए.सी. लो-फ्लोर      2506
ए.सी. लो-फ्लोर              1275
स्टैंडर्ड बसें                      1529
बसों की कुल संख्या         5310


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You