इलाहाबाद में छात्रों पर लाठीचार्ज, भाजपा विधायक पर आरोप

  • इलाहाबाद में छात्रों पर लाठीचार्ज, भाजपा विधायक पर आरोप
You Are HereNational
Friday, January 03, 2014-4:34 AM

लखनऊ: उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग की भर्तियों में हुई अनियमितताओं एवं भ्रष्टाचार के खिलाफ  गुरुवार को इलाहाबाद विश्वविद्यालय छात्रसंघ के अध्यक्ष एवं प्रतियोगी मोर्चा के नेतृत्व में विश्वविद्यालय छात्रसंघ भवन के पास छात्रों ने जमकर प्रदर्शन किया। प्रदर्शन कर रहे छात्रों को काबू में करने के लिए पुलिस को लाठियां भाजनी पड़ीं। इस बीच पुलिस ने आरोप लगाया है कि भाजपा विधायक के उकसाने के बाद ही छात्रों ने बवाल किया।

उपद्रव के दौरान छात्रों ने पुलिस के कई वाहन क्षतिग्रस्त कर दिए और एक पुलिस वाहन में आग लगा दी। इस दौरान कई छात्र एवं कई पुलिस अधिकारी घायल हो गए। इस मामले में भाजपा के कई नेताओं के खिलाफ  मुकदमा दर्ज किया गया है और भाजपा नेता योगेश शुक्ला समेत कई छात्रनेताओं को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

उप्र लोक सेवा आयोग द्वारा हाल ही में जारी किए गए पीसीएस परीक्षा के परिणामों सहित कई अनियमताओं को लेकर प्रतियोगी छात्र गुरुवार को प्रदर्शन करने के लिए लोक सेवा आयोग कार्यालय जाना चाहते थे, जिसकी अनुमति प्रशासन से नहीं मिली थी। इसे रोकने के लिए पुलिस ने पहले से ही तैयारी कर रखी थी। छात्रों की मांग थी कि लोकसेवा आयोग के अध्यक्ष अनिल यादव को हटाया जाए और आयोग में व्याप्त भ्रष्टाचार की सीबीआई से जांच कराई जाए।

छात्रों को संबोधित करने के लिए भाजपा नेता योगेश शुक्ला भी अचानक पहुंच गए। छात्र अपना प्रदर्शन कर रहे थे। इस बीच वहां भाजपा के विधायक केशव प्रसाद मौर्य भी पहुंच गए। छात्रों को रोकने के लिए पुलिस ने पहले तो पानी बौछार का प्रयोग किया, जिससे छात्र भड़क गए और हंगामा शुरू कर दिया। हंगामे के बीच शुरू हुए पथराव को रोकने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज का सहारा लेना पड़ा।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एवं पुलिस अधीक्षक (अपराध) अरुण कुमार पांडेय समेत कई आला अधिकारियों ने मौके पर पहुंच कर स्थिति को नियंत्रण में किया। पुलिस ने भाजपा नेता योगेश शुक्ला समेत दो दर्जन से अधिक छात्र नेताओं को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने उन्हें फिलहाल पुलिस लाइन में रखा है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक उमेश कुमार श्रीवास्तव ने कहा कि अभी हाल ही में जेल से छूटकर आए भाजपा के विधायक केशव प्रसाद मौर्य ने शांतिपूर्वक चल रहे आंदोलन में प्रतियोगी छात्रों को उकसाने का प्रयास किया।

श्रीवास्तव ने कहा कि मौर्य ने भड़काऊ  भाषण देकर छात्रों को पथराव करने के लिए प्रेरित किया। उनके खिलाफ  मामला दर्ज किया जाएगा और गिरफ्तार करके जेल भेजा जाएगा। मौर्य हालांकि मौके से फरार हो गए हैं। उन्हें अतिशीघ्र गिरफ्तार किया जाएगा।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You