‘मायावती सिर्फ दलितों की हितैषी, मुस्लिमों की नहीं’

  • ‘मायावती सिर्फ दलितों की हितैषी, मुस्लिमों की नहीं’
You Are HereNational
Thursday, January 16, 2014-4:26 PM

शामली: समाजवादी पार्टी अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष डा. मुनव्वर जंग ने कहा है कि  बसपा की सावधान रैली ने समाज को सावधान कर दिया है कि मायावती सिर्फ  दलितों की हितैषी है, मुस्लिमों और अन्य समाज की नहीं। मायावती ने एक हजार करोड  रुपये खर्च कर अल्पसंख्यकों और गरीबों का अपमान किया है। गुरूवार को सपा अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के पार्टी कार्यालय पर आयोजित एक बैठक आयोजित की गई। बैठक को संबोधित करते हुए हुए सपा अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष डा. मुनव्वर जंग ने कहा कि बसपा की सावधान रैली ने सभी समाजों को सावधान कर दिया है। मायावती सिर्फ  दलित समाज की हितैषी है, किसी अन्य समाज की नहीं है। उनहोंने आरोप लगाया कि मायावती ने अपनी रैली में एक हजार करोड रुपये खर्च कर अल्पसंख्यकों व गरीबों का अपमान किया है।

अगर मायावती रैली के खर्च का दस प्रतिशत भी मुजफ्फरनगर व शामली के दंगा पीडितों की मदद में लगाती तो गरीबों को सहायता मिल जाती। उन्होंने कहा कि दंगों में मरने वाले ज्यादातर लोग मुस्लिम थे। जिनके साथ मायावती की हमदर्दी नहीं थी और न ही दंगा पीडितों के बीच जाकर उनका हाल जाना। गोधरा कांड के बाद भाजपा को समर्थन करने वाली बसपा ही थी। मायावती को बताना चाहिए कि क्या उन्होंने मुस्लिमों के हित में कभी कोई काम किया। उन्होंने कहा कि मुस्लिमों और सर्व समाज की हितैषी केवल समाजवादी पार्टी है, कोई अन्य दल नहीं। इस अवसर पर शाहजेब खां, निसार मुखिया, शेर अफ गन खां,  फैज अशरफ , हाजी जहूर हसन, खुर्शीद, चौ. महबूब हसन, सदाकत नवाब, कुलदीप सिंह, मौ. मेहराज, इंतजार, संदीप चौधरी, सरदार भगवान सिंह, प्रधान शरीफ  चौधरी आदि भी उपस्थित थे।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You