90 रूपए की लूट का आरोपी बरी

  • 90 रूपए की लूट का आरोपी बरी
You Are HereNcr
Sunday, January 19, 2014-6:16 PM

नई दिल्ली: दिल्ली उच्च न्यायालय ने 14 साल पहलेे 90 रूपए की लूट के जुर्म में दोषी ठहराये गये व्यक्ति को संभावित गलत पहचान के आधार पर बरी कर दिया। इस व्यक्ति को निचली अदालत ने 7 साल की कैद और दस रूपए  जुर्माने की सजा दी थी।

न्यायमूर्ति एस.पी गर्ग की पीठ का कहना था कि अभियोजन ने सही तथ्य पेश नहीं किये थे। वहीं इस मामले की जांच के दौरान किसी भी चरण में कोई स्वतंत्र गवाह इससे नहीं जुड़ा। खालिद कुरैशी को मौके से गिरफ्तार नहीं किया गया था, बल्कि उसे इस वारदात के दो या तीन घंटे बाद गिरफ्तार किया गया था, इसलिए गलत पहचान की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता।

गौरतलब है कि खालिद कुरैशी ने निचली अदालत के आदेश को उच्च न्यायालय में चुनौती दी थी।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You