शर्मिदंगी का सबब बन गए हैं केजरीवाल और उनके साथी :रमेश

  • शर्मिदंगी का सबब बन गए हैं केजरीवाल और उनके साथी :रमेश
You Are HereNational
Monday, January 20, 2014-8:38 PM

नई दिल्ली : कुछ दिन पहले आप सरकार की तारीफ करने वाले केंद्रीय मंत्री जयराम रमेश ने आज दिल्ली सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उनके साथी शासन के लिहाज से गंभीर लोग नहीं हैं और वे शर्मिंदगी का सबब बन गए हैं।

उन्होंने दिल्ली पुलिस को राज्य सरकार के अधीन किए जाने की संभावना को भी खारिज कर दिया। जब रमेश से केजरीवाल द्वारा कुछ पुलिस अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग किए जाने के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि आंदोलन कविता की तरह है और शासन गद्य की तरह है। वे आंदोलनकारियों से प्रशासक में तब्दील नहीं हो पाए हैं।

रमेश ने कहा कि उन्होंने पिछले दो तीन सप्ताह में सरकार में जिस तरह से काम किया है, उससे गंभीर प्रश्न खड़े होते हैं। ग्रामीण विकास मंत्री ने यहां संवाददाताओं से कहा कि उनकी शासन की क्षमता को लेकर प्रश्न खड़ा होता है। यह दिखाता है कि वह प्रतिभाशाली आंदोलनकर्ता हैं लेकिन वे शासन के लिहाज से गंभीर लोग नहीं हैं।

उन्होंने कहा कि कोई भी सरकार केजरीवाल की इस मांग से रजामंदी नहीं जता सकती कि दिल्ली पुलिस को राज्य सरकार के अधीन कर देना चाहिए। साल 1999 में शीला दीक्षित ने भी इस तरह की मांग की थी और तत्कालीन गृहमंत्री लालकृष्ण आडवाणी ने उसे खारिज कर दिया था।
 
रमेश ने कहा कि केजरीवाल का यह बयान भी पूरी तरह गलत है कि दिल्ली में सरकार चलाना रॉकेट विज्ञान नहीं है। शासन चलाना रॉकेट विज्ञान होता है। सरकार चलाना बहुत जटिल प्रक्रिया है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You