‘जाट आरक्षण पर नरेंद्र मोदी रैली में अपना रुख स्ष्ट करें’

  • ‘जाट आरक्षण पर नरेंद्र मोदी रैली में अपना रुख स्ष्ट करें’
You Are HereNational
Wednesday, January 29, 2014-4:39 PM

मेरठ: अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति ने भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी से जाट आरक्षण पर अपना और अपनी पार्टी का रुख स्फ्ष्ट करने को कहा है। समिति के अध्यक्ष यशपाल मलिक ने आज यहां कहा कि जाट आरक्षण आंदोलन के दौरान वैसे तो मुख्तार अब्बास नकवी, मुरली मनोहर जोशी जैसे भाजपा के कई वरिष्ठ नेताओं ने जाट आरक्षण का खुलकर समर्थन किया है।

उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार हैं। इसलिए दो फरवरी को प्रस्तावित मेरठ रैली में इस पर अपना रूख स्पष्ट करना चाहिए कि केन्द्र में सरकार बनने की सूरत में उनका जाट आरक्षण को लेकर रुख क्या रहेगा। मलिक ने कहा कि अगर भाजपा जाटों के साथ उसी प्रकार का कोई वायदा करती है, तभी जाट समाज के लोग भाजपा के साथ खड़े होंगे। उन्होंने कहा कि ऐसा नही करने पर नरेंद्र मोदी मेरठ की रैली में टिकट के दावेदारों द्वारा लाई गई भीड़ को अपना वोट बैंक समझने की भूल नहीं करे।  

मलिक ने कहा, ‘‘देश के सभी धर्मों के जाटों को केन्द्र की आरक्षण सूची में शामिल करना, पंजाब में सिख...जाट व जाट को आरक्षण दिया जाए। इसके अलावा गुजरात में मुस्लिम जाट को केन्द्र की सूची में आरक्षण है, लेकिन जाटों की उप जाति चौधरी को प्रदेश में आरक्षण है लेकिन जाट लिखने वालों को प्रदेश में भी आरक्षण नहीं है। वहां इस भेदभाव को समाप्त किया जाए।’’

मलिक ने जाट आरक्षण पर कांग्रेस पर जाटों को गुमराह करने का आरोप लगाया और कहा कि गत 19 दिसम्बर की कैबिनेट की बैठक पर अब तक अमल नहीं किया गया है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You