PM के कार्यक्रम में बाधा ‘सहज आक्रोश’ की अभिव्यक्ति: BJP

  • PM के कार्यक्रम में बाधा ‘सहज आक्रोश’ की अभिव्यक्ति: BJP
You Are HereNational
Wednesday, January 29, 2014-5:04 PM

नई दिल्ली: राष्ट्रीय वक्फ विकास निगम के उद्घाटन कार्यक्रम में मुसलमानों से जुड़ी योजनाओं के जमीनी स्तर पर लागू नहीं होने संबंधी एक व्यक्ति की प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से की गई शिकायत पर भाजपा ने कहा कि यह अल्पसंख्यकों से किए गए संप्रग सरकार के झूठे वायदों के प्रति ‘सहज आक्रोश’ की अभिव्यक्ति है। भाजपा ने कहा कि प्रधानमंत्री के सामने यह आक्रोश उसी विज्ञान भवन में प्रकट किया गया जहां आज से 6 साल पहले इन्हीं प्रधानमंत्री ने घोषणा की थी कि देश के संसाधनों पर पहला हक मुसलमानों का है।

पार्टी के प्रवक्ता सुधांशु मित्तल ने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री ने 6 वर्ष पूर्व जो बयान दिया था, वह गलत था या सही, यह अलग बात है, लेकिन आज उसी विज्ञान भवन मे एक व्यक्ति ने आक्रोश प्रकट कर यह साबित जरूर किया है कि प्रधानमंत्री और उनकी सरकार के आश्वासनों और सच्चाई में कितना अंतर है।’’

विज्ञान भवन में सिंह ने जैसे ही राष्ट्रीय वक्फ विकास निगम गठित करने के अवसर पर अपना उद्घाटन भाषण समाप्त किया एक शख्स उठ खड़ा हुआ और विरोध जताने लगा कि अल्पसंख्यक योजनाएं जमीनी स्तर पर लागू नहीं हो रही हैं। इस कार्यक्रम में संप्रग अध्यक्ष सोनिया गांधी भी मौजूद थी।

 सुरक्षा कर्मी उस व्यक्ति को विज्ञान भवन से बाहर ले गए। बाद में, उस शख्स ने बताया कि इस बारे में प्रधानमंत्री को 150 पत्र लिखे जाने और शिकायतें दर्ज कराने के बाद भी उसे उनकी पावती तक नहीं मिली। उसने कहा, ‘‘मैंने सरकार से अपने विचार साझा करने के लिए हर संभव प्रयास किया। मेरे पास कोई और विकल्प नहीं था।’’


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You