खाद्य सुरक्षा कानून को लेकर लोगों को भ्रमित कर रहे नीतीश: कांग्रेस

  • खाद्य सुरक्षा कानून को लेकर लोगों को भ्रमित कर रहे नीतीश: कांग्रेस
You Are HereNational
Sunday, February 02, 2014-4:46 PM

पटना: कांग्रेस ने बिहार में खाद्य सुरक्षा कानून को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के दावे को हास्यास्पद एवं झूठ का पुलिंदा बताते हुए आज कहा कि योजना को अपना बताकर मुख्यमंत्री राज्य के लोगों को भ्रमित करना चाहते है। बिहार प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष सह मीडिया प्रभारी प्रेमचंद्र मिश्रा ने कहा कि खाद्य सुरक्षा कानून पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी के अथक प्रयासों का परिणाम है।

उन्होंने कहा कि योजना के बिहार में शुभारंभ किए जाने के दौरान मुख्यमंत्री के भाषण से ऐसा लगा कि वे जबर्दस्ती इस योजना का श्रेय लेना चाहते हैं। उन्होंने मुख्यमंत्री के दावे को झूठ का पुलिंदा बताया और कहा कि यदि मुख्यमंत्री वास्तव में इस योजना का लाभ जरूरतमंदों तक पहुंचाना चाहते है तो उन्हें जन वितरण प्रणाली में व्याप्त भ्रष्टाचार एवं लीकेज को ठीक करने का प्रयास करना चाहिए। मिश्रा ने कहा कि बिहार में इस कानून के लागू होते ही राज्य की 85 प्रतिशत ग्रामीण एवं 74 प्रतिशत शहरी आबादी को इसका लाभ मिलेगा। यही नहीं पूरे देश में सबसे ज्यादा 58 लाख टन अनाज बिहार को मिलेगा।

इस अनाज को पहुंचाने का खर्च भी केन्द्र सरकार उठायेगी। केवल लाभान्वितों की सूची तैयार करने तथा इसके वितरण का जिम्मा राज्य सरकार को दिया गया है। उन्होंने स्पष्ट किया कि ऐसी हालत में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा किसी भी प्रकार का दावा राजनैतिक धोखाधड़ी के समान है। उन्होंने कहा कि राज्य की जनता सभी चीजों को भली.भांति समझ रही है और मुख्यमंत्री के झूठे झांसे में नहीं आने वाली है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You