भारत की राष्ट्रीय सुरक्षा की कीमत पर शांति नहीं: एंटनी

  • भारत की राष्ट्रीय सुरक्षा की कीमत पर शांति नहीं: एंटनी
You Are HereNational
Thursday, February 06, 2014-2:33 PM

नई दिल्ली: रक्षा मंत्री ए के एंटनी ने आज कहा कि भारत की राष्ट्रीय सुरक्षा की कीमत पर शांति नहीं आ सकती है, साथ ही इस बात पर जोर दिया कि सशस्त्र बलों को आधुनिक बनाने के लिए सभी कदम उठाये जा रहे हैं ताकि वे सर्वश्रेष्ठ हथियार प्रणाली और प्रौद्योगिकी से सुसज्जित हों।

चार दिवसीय रक्षा प्रदर्शनी 2014 का शुभारंभ करते हुए एंटनी ने रक्षा उद्योग के स्वदेशीकरण पर भी जोर दिया और कहा कि यह निजी क्षेत्र को नया अवसर प्रदान करता है। रक्षा प्रदर्शनी में 624 घरेलू और अंतरराष्ट्रीय कंपनियां हिस्सा ले रही हैं। 

रक्षा मंत्री ने कहा, ‘‘ भारत हमेशा शांति में विश्वास करता है... हालांकि शांति हमारी सुरक्षा चिंताओं की कीमत पर नहीं आ सकती है । हम अपनी क्षेत्रीय सम्प्रभुता और अखंडता के लिए किसी भी चुनौती का मुकाबला करने के लिए तैयार हैं।’’

रक्षा मंत्री ने कहा कि भारत रक्षा खरीद प्रक्रिया की नियमित समीक्षा करता है और निजी क्षेत्रों को बढ़ावा देता है। उन्होंने कहा कि खरीद में तेजी लाने, स्वदेशी रक्षा क्षेत्र के विकास और उच्चकोटि की पारदर्शिता, शुचिता एवं जवाबदेही के बीच संतुलन बनाने की जरूरत है।  एंटनी ने कहा कि भारत अपने रक्षा क्षेत्र में आत्मनिर्भरता हासिल करने के लिए स्वदेशीकरण में तेजी लाने की दिशा में प्रयास कर रहा है। 

उन्होंने कहा, ‘‘ हम सार्वजनिक..निजी क्षेत्र की हिस्सेदारी में विकास देखते हैं और हम निजी क्षेत्र को मौका दे रहे हैं ताकि वे रक्षा क्षेत्र में अर्थपूर्ण और पर्याप्त योगदान दे सके।’’ एंटनी ने कहा कि विदेशी मूल उपकरण निर्माताओं को प्रोत्साहित करने के लिए लचीलापन दिखाया जा रहा है। उन्होंने उम्मीद जतायी कि रक्षा प्रदर्शनी गठजोड़ और कारोबारी सहयोग की प्रक्रिया में नये अध्याय की शुरूआत करेगी।
 

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You