इंटरनेट और मोबाइल बैंकिंग के उपभोक्ता साइबर हमलों के शिकार

  • इंटरनेट और मोबाइल बैंकिंग के उपभोक्ता साइबर हमलों के शिकार
You Are HereNational
Wednesday, February 19, 2014-10:35 AM

नई दिल्ली: भारतीय रिजर्व बैंक और भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमयन बोर्ड ने इंटरनेट बैकिंग और मोबाइल बैंकिंग को साइबर हमलों से बचाने के लिए वित्तीय कंपनियों और बैंकों से अतिरिक्त सावधानी बरतने को कहा है। इंटरनेशनल आर्गेनाईजेशन ऑफ सिक्योरिटीज कमीशन और वल्र्ड फेडरेशन आफ एक्सचेंज आफिस के एक संयुक्त सर्वेक्षण में विश्व बैंकिंग तंत्र पर साइबर हमलों में इजाफा होने की आशंका व्यक्त की गई है। सर्वेक्षण में कहा गया है कि इंटरनेट बैकिंग और मोबाइल बैंकिंग के जरिए अंतर्राष्ट्रीय लेन-देन करने वाले और देश में दूर दराज के हिस्सों में इस सुविधा का इस्तेमाल करने वाले उपभोक्ता साइबर हमलों के आसानी से शिकार बन सकते हैं।

 

व्यापक क्षेत्र में क्रेडिट, डेबिट और एटीएम कार्ड और सार्वजनिक कम्प्यूटर इस्तेमाल करने वाले उपभोक्ताओं को विशेष सावधानी बरतने को कहा गया है। शोध में कहा गया है कि साइबर हमलों से तात्पर्य केवल वित्तीय धोखाधड़ी करना ही नहीं है बल्कि वित्तीय सूचनाएं चुराना और वित्तीय सूचनाओं में हेरा-फेरी करना भी शामिल है। यह खतरा वित्तीय संसाधनों के साथ-साथ आर्थिक, सामाजिक और राजनीतिक पक्ष के साथ भी है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You